बीफ बैन पर वेंकैया नायडू ने कहा-खान-पान निजी पसंद, इस बहस क्यों

0

नई दिल्ली। देश भर में बीफ को लेकर घमासान मचा हुआ है। इस मामले में सभी राजनीतिक दल अपनी अपनी बातें रख रहें हैं। वहीं बीजेपी के बड़े नेता भी दबी जुबान से बीफ़ बैन के खिलाफ हैं। इसी कड़ी में सूचना एवं प्रसारण मंत्री एम वेंकैया नायडू ने कहा कि वह खुद ही मांसाहारी हैं और किसी ने उनसे यह नहीं कहा कि वह क्या खाएं और क्या नहीं। खान-पान निजी पसंद है।
वेंकैया नायडू

वेंकैया नायडू ने कहा कि हम बस इतना चाहते हैं सभी एक समान कानून का पालन हो

मीडिया से बात करते हुए वेंकैया नायडू ने बिना नाम लिए ही एक चैनल पर आरोप लगाया कि कुछ समाचार प्रसारक ऐसे बीफ बैन पर चर्चा दिखा रहे हैं, जिसका अस्तित्व नहीं है। उन्होंने कहा कि वे चर्चा कर रहे हैं कि क्या भारत शाकाहारी देश में तब्दील होने जा रहा है।

उन्होंने आकाशवाणी वार्षिक पुरस्कार समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि मैं विशुद्ध मांसाहारी हूं और किसी ने भी मुझसे नहीं कहा कि क्या खाना चाहिये और क्या नहीं खाना चाहिये। खान-पान निजी पसंद है। इस बारे में क्यों बहस हो रही है।

इस मौके पर उन्होंने एनडीटीवी के प्रमोटर प्रणय राय के घर और कार्यालयों पर सीबीआई की रेड पर बोलते हुए कहा कि कोई भी छूट का दावा सिर्फ इसलिये नहीं कर सकता कि वह मीडियाकर्मी है। उन्होंने कहा कि हम बस इतना चाहते हैं सभी एक समान कानून का पालन करें।

loading...
शेयर करें