वैष्णो देवी यात्रा से पहले ही धरे गए हाइजैक बीडीसी

कानपुर बिधनू ब्लॉक के बीडीसी सदस्यों को हाइजैक कर वैष्णो देवी यात्रा कराने को तैयारी से पहले ही पुलिस ने उन्हें धर लिया। देर रात बर्रा के दरोगा गेस्टहाउस में ब्लॉक प्रमुख के प्रत्यासी द्वारा इकट्ठा किये गए बीडीसी की सूचना पर पहुंचे कई थानों का फ़ोर्स व दो सर्किल के सीओ ने गेस्टहाउस की घेराबंदी करके वैष्णो देवी यात्रा  पर जाने वाले 27 पुरुष और 9 महिलाओं को पकड़कर बिधनू थाने लाकर निजी मुचालके में रिहा कर दिया।

वैष्णो देवी यात्रा

वैष्णो देवी यात्रा की प्लानिंग हुई

ब्लॉक प्रमुख के चुनाव के चलते बिधनू ब्लॉक के तकरीबन 36 बीडीसी सदस्यों को आज दोपहर बर्रा स्थित दरोगा गेस्टहाउस में बुलाकर दावत दी गयी साथ ही कम्बल वितरित करके रातोरात माँ वैष्णो देवी यात्रा की प्लानिंग हुई। लेकिन प्रत्यासी की मेहनत पर पानी फिर गया और मौके पर पहुंची कई थानों की फ़ोर्स ने उन्हें गेस्टहाउस से गिरफ्तार कर लिया। बिधनू थाने लाये गये सदस्यों के नाम है रामप्रसाद कुरील, दशरथ , अनुज कुमार सिंह , राहुल , अवधेश कुमार , अशोक , संदीप , राम बहादुर , अन्नू सिंह , रामशंकर , जगदीश सिंह , सूबेदार , विनय पासवान , फूल सिंह , विजय सिंह , अमिता पाल, आदि हैं।

मासूम भी हुए परेशान

महिला सदस्यों के साथ आये उनके मासूम बच्चे भी इस राजीनीति की चाल में कड़ाके की ठंड में परेशान हुए। थाने में आने पर वो रोने लगे और किसी तरह उनकी माँ ने उन्हें चुप कराया।

निजी मुचालके पर हुए रिहा

पकड़े गये सदस्यों को पुलिस ने उनके परिजनों को थाने बुलाकर उनके सुपुर्द कर दिया और हिदायत दी की 7 फरवरी के पहले आप अपने घर पर ही रहेंगे और किसी प्रलोभन में न आये।

प्रत्यासी का मास्टर प्लान

बताते चले की आने वाली 5 फरवरी को ब्लॉक प्रमुख चुनाव का नामांकन है और 7 फरवरी को वोटिंग के बाद शाम को परिणाम आना है। इन बातों को ध्यान में रखते हुए और अपने वोटर्स को अपने पाले में गिराने के लिए 6 फरवरी तक के वैष्णो देवी यात्रा टूर का प्रोग्राम रखा गया ताकि उनके द्वारा ख़रीदे गये वोटर्स सामने वाले प्रतिद्वंदी के पास न पहुंच जाये। बीडीसी सदस्यों ने बताया की उनको रमेश यादव ने जबरन गेस्टहाउस नही बुलवाया था वो  अपनी मर्जी से वहां गये थे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button