जेएनयू विवाद में कन्हैया के समर्थन में खड़े हुए बीजेपी नेता शत्रुघ्न सिन्हा

पटना जवाहर लाल नेहरू यूनीवर्सिटी (जेएनयू) विवाद को लेकर भाजपा के नेता छात्रसंघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार की गिरफ्तारी को सही बता रहे हैं। भाजपा के वरिष्ठ नेता और फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा ने पार्टी लाइन से हटकर इसे गलत करार दिया। बिहार के पटना साहिब से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्वीट में लिखा कि जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष और हमारे बिहार के लड़के कन्हैया कुमार के भाषण को मैंने सुना है। उसने कुछ भी राष्ट्रविरोधी या संविधान विरोधी नहीं कहा है।

शत्रुघ्न सिन्हा

शत्रुघ्न सिन्हा ने ट्वीट कर दिया कन्हैया का साथ

शत्रुघ्न सिन्हा ने एक अन्य ट्वीट में लिखा कि मैं उम्मीद करता हूं कि उन्हें जल्द रिहा कर दिया जाएगा। यह जितनी जल्दी होगा, उतना अच्छा होगा। भाजपा नेता ने कहा कि फिलहाल जेएनयू जिस संकट से गुजर रहा है उसकी वजह देश के राजनेताओं को ही पता होगी। उन्होंने लिखा कि यह एक अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त संस्था है जिसका बहुत ही गौरवशाली इतिहास रहा है।

इस संस्था को और अधिक शर्मिदगी से बचाना चाहिए

शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि इस संस्था को और अधिक शर्मिदगी से बचाना चाहिए। उन्होंने लिखा कि हमें संस्थान की छवि को धक्का पहुंचाने वाले बयानों पर सजग रहना होगा। आखिर वे हमारे ही बच्चे और छात्र हैं। उल्लेखनीय है कि इससे पूर्व भी शत्रुघ्न पार्टी लाइन से हटकर बयान देने की वजह से सुर्खियों में रहे हैं।

क्‍या है जेएनयू मामला

9 फऱवरी को जेएनयू में वामपंथी और दलित संगठनों से जुड़े छात्रों ने संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरु की बरसी मनाई। इसमें कश्मीर के छात्र भी शामिल थे। इसके लिए कैंपस में एक सांस्कृतिक संध्या का आय़ोजन भी किया गया था। इस दौरान देश विरोधी नारे भी लगाए गए। आरोप है कि विरोध करने पर इन लोगों ने ABVP के कार्यकर्ताओं की पिटाई भी की। एबीवापी के छात्रों ने देर रात कैम्पस में एक बड़ी रैली निकाली। रैली में शामिल छात्र-छात्राओं ने अफजल गुरू का समर्थन करने वालों के खिलाफ नारेबाजी की। रैली में शामिल छात्र तिरंगा झंडा लिए चल रहे थे, और भारत माता की जय और वंदे मातरम के नारे लगा रहे थे।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button