IPL
IPL

शनि शिंगणापुर में 26 जनवरी को 400 महिलाएं तोड़ेंगी परंपरा

पुणे। शनि शिंगणापुर मंदिर में महिलाएं कल पूजा करेंगी। गणतंत्र दिवस के मौके पर 400 महिलाओं ने धमकी दी है कि वे शनि शिंगणापुर मंदिर के चबूतरे पर पूजा करेंगी।

शनि शिंगणापुर मंदिर

शनि शिंगणापुर मंदिर में टूटेगी परंपरा

शनि शिंगणापुर मंदिर में महिलाओं का चबूतरे पर जाना परंपरा के खिलाफ माना जाता है। लेकिन 400 महिलाओं ने एकजुट होकर यह परंपरा तोड़ने की ठान ली है। इन महिलाओं ने कहा है कि उन्होंने हेलीकॉप्टर से मंदिर जाने की इजाजत मांगी है। क्योंकि बैरिकेड तो जमीन पर होंगे। हम आसमान से आएंगे।

टूटी थी 400 साल पुरानी परंपरा
किसी भी हिंसक टकराव को रोकने के लिए अहमदनगर जिले में पुलिस ने ऐहतियातन भीड़ जमा न होने देने के निर्देश दिए हैं। मुंबई से करीब तीन सौ किलोमीटर दूर शनि शिंगणापुर मंदिर में महिला श्रद्धालु के दर्शन के बाद से विवाद शुरू है। एक युवती ने 400 साल पुरानी परंपरा को तोड़ते हुए शनि की मूर्ति पर तेल चढ़ा दिया था। इसके बाद मंदिर प्रशासन ने महिला को रोकने के लिए महिला पुलिस को तैयार किया था।

मंदिर ट्रस्ट का बयान
इस पूरे विवाद पर शनि शिंगणापुर मंदिर ट्रस्ट के सदस्यों का कहना है कि वे महिलाओं का हमेशा से सम्मान करते हैं। उस महिला और उसकी भावना का भी सम्मान करते हैं जिसने वहां जाकर पूजा की लेकिन, बरसों पुरानी  चली अा रही परंपरा के अनुसार शनि शिंगणापुर मंदिर में महिलाएं जाकर पूजा नहीं कर सकती और हम इसे बदल नहीं सकते।

कई जिलों की महिलाएं करने आएंगी पूजा
इसके लिए महाराष्ट्र के सभी जिलों से महिलाएं आ रही हैं। लातूर, नासिक, जालना, सातारा, सांगली जिले से महिलाएं आने वाली हैं। पहली बार शानि शिंगणापुर में दो महिलाओं को ट्रस्टी और एक महिला को अध्यक्ष बनाया गया है। ये भूमाता रन रागिनी ब्रिगेड की जीत है।शनि शिंगणापुर मंदिर प्रशासन ने 26 जनवरी को देखते हुए सारी तैयारियां  पूरी कर ली हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button