जेएनयू में कांग्रेस नेता शशि थरूर ने ‘कन्हैया’ को आज का ‘भगत सिंह’ बताया

0

नई दिल्ली जेएनयू का मुद्दा अभी तक शांत होने का नाम नहीं ले रहा है। कभी बीजेपी के नेता विपक्ष पर उंगली उठाते हैं तो कभी विपक्ष के लोग। अब जेएनयू के मुद्दे पर कांग्रेस नेता शशि थरूर ने बीजेपी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रवाद अब केवल इससे तय किया जाता है कि कोई भारत माता की जय कहता है या नहीं। इतना ही नहीं शशि थरूर ने जेएनयू में देशद्रोही नारे लगाने के आरोपी कन्हैया कुमार को आज का भगत सिंह बताया।

शशि थरूर

शशि थरूर ने विधायक वारिस पठान के निलंबन को भी गलत ठहराया

शशि थरूर ने कहा कि भारत माता की जय के नारे लगाने या नहीं लगाने का अधिकार लोकतंत्र में लोगों का होना चाहिए। और दूसरों के विचारों को सहन किया जाना चाहिए। थरूर ने कहा कि आजकल राष्ट्रवाद इससे तय होता है कि कोई व्यक्ति ‘भारत माता की जय’ कहता है कि नही। मुझे यह कहने में खुशी है, लेकिन क्या हमें सभी को ऐसा कहने के लिए मजबूर करना चाहिए। थरूर ने महाराष्ट्र विधानसाभा में एमआईएम विधायक वारिस पठान के भारत माता की जय बोलने से इंकार करने पर सदन से उनके निलंबन को भी गलत ठहराया।

क्‍या है जेएनयू मामला

9 फऱवरी को जेएनयू में वामपंथी और दलित संगठनों से जुड़े छात्रों ने संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरु की बरसी मनाई। इसमें कश्मीर के छात्र भी शामिल थे। इसके लिए कैंपस में एक सांस्कृतिक संध्या का आय़ोजन भी किया गया था। इस दौरान देश विरोधी नारे भी लगाए गए। आरोप है कि विरोध करने पर इन लोगों ने एबीवीपी के कार्यकर्ताओं की पिटाई भी की। एबीवीपी के छात्रों ने देर रात कैम्पस में एक बड़ी रैली निकाली। रैली में शामिल छात्र-छात्राओं ने अफजल गुरू का समर्थन करने वालों के खिलाफ नारेबाजी की। रैली में शामिल छात्र तिरंगा झंडा लिए चल रहे थे, और भारत माता की जय और वंदे मातरम के नारे लगा रहे थे।

loading...
शेयर करें