दूल्हे ने दहेज में मांगी पल्सर और दुल्हन ने बदले में कहा तलाक,तलाक, तलाक

0

रांची। मौका शादी था। सभी लोग हंसी खुशी दूल्‍हे-दुल्‍हन को आर्शीवाद दे रहे थे कि तभी वहां का माहौल बदल गया। सभी लोग इतने नाराज हो गए कि कुछ भी कर सकते थे। लेकिन दुल्‍हन ने हिम्‍मत दिखाते हुए कदम उठाया और अपनी घर की इज्‍जत बचा ली। मामला शादी में पल्‍सर बाइक मांगने का है। इसी से लड़की पक्ष के लोग नाराज हो गए।

शादी में पल्‍सर बाइक

शादी में पल्‍सर बाइक मांगने से माहौल हुआ गमगीन

आदिवासी राज्‍य झारखंड का यह मामला है। यहां के एक गांव में दूल्हे ने जब पल्सर बाइक मांगी तो लड़की पक्ष के लोगों के चेहरे की खुशियां गायब हो गईं। दुल्हन ने हिम्‍मत दिखाते हुए निकाह के ढाई घंटे बाद ही काजी को बुलाकर तलाक दे दिया। ऐसा कर दुल्हन ने दहेज के खिलाफ पूरे समाज को एक बड़ी सीख दी है।

मिली थी पैशन प्रो लेकिन दूल्‍हा चाहता था पल्‍सर

अगर पूरी घटना पर एक नजर डाली जाए तो झारखंड के चंदवे गांव की रूबाना का रांची जिले के ओरमांझे टाउन निवासी मुमताज अंसारी के साथ निकाह हुआ। विदाई के समय दूल्हे को पैशन-प्रो बाइक दी गई लेकिन दूल्हा पल्सर बाइक लेने की जिद कर बैठा। इतना ही नहीं, दूल्हे ने दुल्हन के पिता से बदतमीजी भी की। दूल्हे की इन हरकतों से नाराज दुल्हन ने रिश्ता तोड़ने का ऐलान कर दिया। तड़के 3.30 बजे काजी को बुलाया गया और तलाक दे दिया।

दुल्‍हे को पहनाई गई जूते की माला

दुल्हन रूबाना ने बताया कि जो व्यक्ति दहेज के लालच में मेरे पिता से गाली-गलौज कर सकता है, उसे अपना जीवनसाथी कहना कैसे सहन कर सकती हूं। तलाक के बाद लड़की वालों ने शादी में खर्च के लाखों रुपये वापस मांगे। तत्काल पैसे लौटाने में असमर्थता जताने पर लोगों ने दूल्हे के गले में ‘मैं दहेज का लालची हूं’ लिखी तख्ती लटका दी, जूतों की माला पहना दी और पूरे गांव में उसे घुमाया।

loading...
शेयर करें