अपनों से मिलने के लिए 386 किलोमीटर पैदल चला ये कुत्ता

0

लंदन। ब्रिटेन के वेल्स में जन्मे एक कुत्ते को जब घर की याद सताई तो वह कम्ब्रिया स्थित अपने नए घर से 240 मील (386 किलोमीटर) की यात्रा तय कर अपने पुराने घर पहुंच गया। पेरो खेतों में भेड़ों की रखवाली करने वाला एक कुत्ता है, जिसे आम भाषा में शीपडॉग कहा जाता है। एक अग्रेजी अखबार के मुताबिक, ऐसा माना जा रहा है कि चार वर्षीय पेरो कॉकरमाउथ स्थित अपने नए मालिकों के घर से भागकर 12 दिनों तक 386 किलोमीटर पैदल चलकर सेरेडिजन जिले के पेनरिह्नकोच गांव पहुंचा है।

 

_89417607_pero1

गांव पहुंचने के बाद यह अपने मूल मालिकों एलन और शान जेम्स के घर पहुंच गया। इस दौरान वह थोड़ा लंगड़ा रहा था, लेकिन बिल्कुल स्वस्थ था। 48 वर्षीया एलन ने बताया, “वह उन पर कूद पड़ा, वह बहुत उत्साहित था वह उनके चारों ओर चक्कर लगा रहा था।” 12 दिनों तक यह यात्रा पूरी करने में पेरो को व्यस्त सड़कों पर प्रतिदिन लगभग 32 किलोमीटर पैदल चलना पड़ा होगा।

वहीं जेम्स ने इस यात्रा को एक रहस्य बताया है। उन्होंने कहा, “यह वाकई एक रहस्य है कि पेरो ने घर वापसी का रास्ता कैसे ढूंढ़ा। वह अपने नए घर में बिल्कुल खुश नहीं होगा। वह काफी शर्मीला भी है।” कुत्तों की गतिविधि के विशेषज्ञ स्टैन रॉविल्सन ने बताया कि किसी कुत्ते द्वारा खतरनाक यात्रा करना असंभव बात नहीं है, क्योंकि कामकाजी कुत्तों को स्थानिक जागरूकता समेत कुछ विशेष प्रकार के प्रशिक्षण दिए जाते हैं।

loading...
शेयर करें