शेयर बाजारों के शुरुआती कारोबार में तेज गिरावट

शेयर बाजारोंमुंबई। देश के शेयर बाजारों के शुरुआती कारोबार में गुरुवार को गिरावट देखी गई। कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट के कारण सभी प्रमुख एशियाई बाजारों के लाल निशान में रहने से गुरुवार को घरेलू शेयर बाजार पर भी बिकवाली का दबाव रहा और सेंसेक्स तथा निफ्टी शुरुआती कारोबार में डेढ़ फीसदी से ज्यादा लुढ़क गए।

शेयर बाजारों में बड़ी गिरावट

बीएसई का 30 शेयरों का संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 247.91 अंक की गिरावट के साथ 24606.20 अंक पर खुला और बिकवाली के दबाव में पहले ही घंटे में लगभग 400 अंक गिरकर 24473.22 अंक तक उतर गया। बुधवार को यह 24854.11 अंक पर बंद हुआ था।

यह लगातार दूसरा दिन है जब सेंसेक्स 24500 अंक से नीचे फिसला है। हालांकि, बाद में कुछ वापसी करते हुए यह 0.97 प्रतिशत यानि 241.85 अंक नीचे 24612.26 अंक पर रहा। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का 50 शेयरों वाला सूचकांक निफ्टी भी 95 अंक गिरकर 7467.40 अंक पर खुला और पहले घंटे में 7443.80 अंक तक गिरा। बाद में यह 1.10 प्रतिशत यानि 82.95 अंक नीचे 7479.45 अंक पर रहा। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चा का बेंचमार्क कहे जाने वाले ब्रेंट क्रूड में गुरुवार को डेढ़ फीसदी से ज्यादा की गिरावट देखी गयी और यह 30 डॉलर से नीचे फिसलकर फरवरी 2004 के बाद के निचले स्तर पर उतर गया।

इससे सभी प्रमुख एशियाई बाजार दबाव में रहे। जापान का निक्की 3.72 प्रतिशत, हांगकांग का हेंगसेंग 1.63 प्रतिशत, दक्षिण कोरिया का कोस्पी 1.50 प्रतिशत तथा चीन का शंघाई कंपोजिट 1.09 प्रतिशत लुढ़क गए। सेंसेक्स की 30 में से 29 कंपनियाँ लाल निशान में रहीं। अच्छे तिमाही परिणाम के बल पर सिर्फ इंफोसिस ही चार फीसदी से ज्यादा की बढ़त बनाने में सफल रही। आईटी और टेक समूहों को छोड़कर बीएसई के सभी समूहों में बिकवाली का जोर रहा।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button