बीजेपी नेता ने अखि‍लेश सरकार को दिया 15 दिन का अल्टीमेटम

0

कैराना/ लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले कैराना से हिन्दुओं के कथित पलायन के मुद्दे को लेकर पश्चिमी उप्र एक बार फिर सियासी मैदान बन गया है। सरधना से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक संगीत सोम की सरधना से कैराना तक निर्भय पदयात्रा बीच में ही रोक दी।

संगीत सोम

वहीं दूसरी ओर यात्रा रोके जाने पर बीजेपी विधायक ने कहा, ‘वरिष्ठ अधि‍कारियों ने हमें रोका है. ये कह रहे हैं कि धारा-144 लागू है. इसलिए हम भी यात्रा रोक रहे हैं।’ इसके साथ ही उन्होंने अखि‍लेश सरकार को 15 दिनों का अल्टीमेटम दिया है। सोम ने कहा कि सरकार 15 दिनों से अंदर पलायन किए गए परिवारों को सुरक्षि‍त वापस लाए, वरना बड़े स्तर पर प्रदर्शन किया जाएगा।

बता दें कि भाजपा विधायक संगीत सोम ने जहां सरधना से कैराना तक ‘निर्भय यात्रा’ निकालने का ऐलान किया था वहीं सपा के नेता अतुल प्रधान ने इसके विरोध में ‘सद्भावना यात्रा’ निकालने की बात कही थी। जिला प्रशासन का कहना है कि कानून व्यवस्था को देखते हुए किसी को इस तरह की पदयात्रा निकालने की अनुमति नहीं दी गई।

भाजपा की ‘निर्भय यात्रा’ के जवाब में सरधना से सपा प्रत्याशी अतुल प्रधान ने ‘सद्भावना यात्रा’ का ऐलान किया था। इन दो पदयात्राओं को लेकर जिले का सियासी पारा सुबह से चढ़ गया था।

loading...
शेयर करें