बड़ा खुलासा : वीडियो में है मेरा हमशक्ल!

0

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी के पूर्व मंत्री संदीप कुमार की मुश्किलें कम होती नज़र नहीं आ रही हैं। दिल्ली कोर्ट ने उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया। पुलिस ने चार दिन की पूछताछ के बाद संदीप को कोर्ट में पेश किया गया। वहीं संदीप का कहना है कि उस वीडियो में वो नहीं हैं बल्कि उनके जैसा दिखने वाला कोई और है।

संदीप कुमार

संदीप कुमार ने कोर्ट से सुरक्षा की गुहार लगाई

संदीप कुमार के वकील ने कहा कि मेरे क्लाइंट पर लगा आरोप पूरी तरह राजनीति से प्रेरित है। संदीप ने कोर्ट से सुरक्षा को लेकर गुहार लगाई है, कोर्ट ने भी संदीप को सुरक्षा का भरोसा दिया है।

संदीप की पत्नी को सच का इंतजार

संदीप की पत्नी रितु ने अपने पति पर भरोसा जताते हुए कहा कि “हमें पूरी न्यायिक प्रक्रिया का सम्मान करना होगा। यह हमारे खिलाफ षडयंत्र है। सच जरूर सामने आएगा।”

अभी आरोपों को गलत बताया

पुलिस ने संदीप से पूछताछ की। पूछताछ में संदीप अपने ऊपर लगे सभी आरोपों से साफ इनकार करता रहा। अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज करते हुए संदीप ने कहा कि मैंने कोई अपराध नहीं किया है। ये मेरी राजनीतिक छवि को खराब करने की साजिश हैं।

संदीप का कहना है कि वीडियो में दिख रहा शख्स वो नहीं है और पुलिस को वीडियो को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजना चाहिए।

पुलिस ने जब संदीप को पीड़ित महिला का कोर्ट में दिया गया बयान और जुटाए गए सबूत दिखाए तो संदीप ने कहा ये वीडियो काफी पुराना है और उसने शारीरिक संबंध के लिए किसी पर दबाव नहीं डाला।

इन धाराओं के तहत हुई गिरफ़्तारी

महिला के बयान के आधार पर संदीप पर रेप का मामला दर्ज हुआ है। संदीप पर धारा 376, 328 और 67A IT के तहत मामला दर्ज हुआ है। महिला के साथ रेप का आरोप लगा इसलिए धारा 376 लगी। राशन कार्ड बनवाने का झांसा दिया। इसलिए भ्रष्टाचार निरोधक कानून की धारा लगी। छुपकर महिला की आपत्तिजनक वीडियो बनाया इसलिए आईटी एक्ट लगा।

बता दें कि सीडी में दिल्ली के पूर्व महिला विकास मंत्री संदीप कुमार दो अलग-अलग महिलाओं के साथ आपत्तिजनक हालत में दिख रहे हैं। इसके बाद सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर मंत्री को कैबिनेट से हटाए जाने की जानकारी दी थी।

 

loading...
शेयर करें