इस बार हज पर नहीं जा सकते इस देश के लोग

0

सऊदी अरब हजतेहरान। चार महीने बाद हज का दौर शुरू हो जाएगा। दुनिया से तमाम लोग  हज करने के लिए मक्का-मदीना जाएंगे। इस दौरान एक देश ने सऊदी अरब पर आरोप लगाया है कि वह मक्का में लोगों को हज करने से रोक रहा है। बताया जा रहा है कि इस साल सऊदी अरब के नेताओं के  तनाव के कारण इस देश के लोगों को सऊदी अरब हज पर नहीं आने देने का फैसला किया है।

सऊदी अरब हज पर नहीं जा सकेंगे ईरानी

30 साल में पहली बार सऊदी अरब हज पर नहीं कर पाएंगे ईरानी। सऊदी अरब अगर ईरानियों को सितंबर में होने वाले हज में नहीं आने देता है तो 30 साल में पहली बार ईरान के लोग हज नहीं कर पाएंगे। ईरान मुख्य रूप से शिया बहुल देश है। जबकि सऊदी अरब सुन्नी। दोनों देश ईरानियों को हज करने देने पर विचार-विमर्श कर रहे हैं, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकल सका है।

ईरान के संस्कृति मंत्री अली जन्नती ने कहा है कि किसी सहमति पर नहीं पहुंच सके। क्योंकि सऊदी अरब रोड़े अटका रहा है। उन्होंने कहा, ‘सऊदी अरब ईरानियों के हज पर जाने के अधिकार का विरोध कर रहा है।’

ईरान ने सऊदी अरब पर लापरवाही का लगाया आरोप

पिछले साल 60,000 ईरान हज करने मक्का गए थे। लेकिन वहां मची भगदड़ में 2300 लोग मारे गए थे। इनमें 464 ईरानी थे। तब ईरान ने सऊदी अरब पर आरोप लगाया था कि वह हज की व्यवस्था ठीक से नहीं कर पाया।

loading...
शेयर करें