हरियाणा की आठ बेटियां उतराखंड में रच रही हैं इतिहास

0

हल्द्वानी। बेटियां हों तो हरियाणा के सदलपुर गांव जैसी। मेहनत करने वाले किसानों के इस गांव से एक बेटी नहीं बल्कि आठ बेटियां फुटबाल टीम का हिस्सा हैं, वह हल्द्वानी इसलिए आयीं हैं क्यों कि उनकी यह इच्छा है कि वह इस ट्रॉफी को जीत कर जायें।

स्टेडियम में चल रही ऑल इंडिया महिला फुटबाल प्रतियोगिता मोहन नाथ गोस्वामी कप-2016 में पंजीकृत चंडीगढ़ की इस टीम में चार खिलाड़ी ऐसी भी हैं, जो अंडर-14 एशिया कप खेलकर अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में अपनी छाप छोड़ चुकी हैं। चारों खिलाडिय़ों ने कांस्य से लेकर स्वर्ण पदक तक अपने नाम किए हैं और उनका लक्ष्य है कि सदलपुर गांव का नाम दुनिया के फलक पर चमकाना।

सदलपुर गांव

सदलपुर गांव की आठ बेटियां खेल रही हैं फुटबाल

हिसार में पड़ने वाले सदलपुर गांव में अर्थव्यवस्था का मुख्य आधार है खेती। किसान खेतों में मेहनत करते हैं तो इनके घर पैदा होने वाली बेटियां खेल के मैदान में। हल्द्वानी में मंगलवार से ऑल इंडिया फुटबाल का आगाज हुआ था और चंडीगढ़ की टीम से खेलकर सदलपुर की बेटियां इस उम्मीद में हैं कि हल्द्वानी से ट्रॉफी लेकर गांव लौटेंगी।

टीम की खिलाड़ी प्रोमिला, पूनम, मनीषा और अंजू ने राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में कई मेडल हासिल किए हैं।

loading...
शेयर करें