उपराष्ट्रपति की पत्नी सलमा अंसारी बोलीं ओम के उच्चारण से मिलती है ऑक्सीजन

लखनऊ। इंटरनेशनल योगा डे पर उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी की पत्नी सलमा अंसारी ने ओम के उच्चारण की वकालत की है। उन्होंने ओम के उच्चारण पर चल रहे विरोध को गलत बताया है। उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में मदरसा अलनूर स्कूल में बच्चों को सम्मानित करने आईं सलमा अंसारी ने कहा, ‘मैं भी योग करती हूं और योग से फिटनेस मिलती है। योग से मुझे बीमारी से उबरने में मदद मिली।’

 सलमा अंसारी

उन्होंने कहा कि अगर मैंने योग नहीं किया होता तो मेरी हड्डी टूट गई होती। उनका कहना है कि अगर आप पढ़े-लिखे हैं तो आपको हर वो काम करना चाहिए, जिससे आपको फायदा मिलता हो। ओम कहने में गलत क्या है? क्या आप अल्लाह, गॉड या रब नहीं कहते हैं…क्या अंतर है…उन्होंने सभी लोगों को योग करने की सलाह दी।

नायडू ने कहा था जरुरी नहीं

बता दें कि 21 जून को इंटरनेशनल योगा डे पर ओम के उच्चारण को लेकर मचे बवाल के बाद अर्बन डेवलपमेंट मिनिस्टर वेंकैया नायडू ने सरकार की तरफ से सफाई दी थी। उन्होंने कहा कि योग डे के मौके पर योग सत्रों के दौरान ओम का उच्चारण जरूरी नहीं है। यह आपकी मर्जी पर है। वेंकैया नायडू ने ट्वीट किया था- योग को विवादास्पद न बनाएं। ओम का उच्चारण जरूरी नहीं है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button