साक्षी महाराज ने दिया चुनाव आयोग की नोटिस का जवाब, कहा- मैं अभी भी अपने बयान पर कायम

0

नई दिल्ली: उन्नाव जिले के भाजपा सांसद साक्षी महाराज ने बुधवार को चुनाव आयोग की कारण बताओ नोटिस का जवाब दे दिया है। हालांकि आयोग की इस याचिका का उनपर कोई खास प्रभाव पड़ता दिखाई नहीं दिया। आयोग को जवाब देने के बाद भी वह अपने उस विवादित बयान पर कायम दिखाई दिए जिसको लेकर उन्हें यह नोटिस थमाई गई थी। जवाब देने के बाद पत्रकारों से रूबरू होते हुए भाजपा सांसद ने कहा कि जनसंख्या पर नियंत्रण करना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि मैंने किसी धर्म य समुदाय का नाम नहीं लिया है।

साक्षी महाराज

साक्षी महाराज ने चुनाव आयोग को दिया जवाब 

साक्षी महाराज ने बुधवार को चुनाव योग द्वारा दिए गए समय पर ही अपना जवाब दे दिया है। हालांकि जवाब देने के बाद भी वह अपने बयान पर डंटे दिखाई दिए। जवाब देने के बाद साक्षी महाराज बोले कि मैं आज भी मानता हूं कि जनसंख्या नियंत्रण होना चाहिए, मैंने किसी समुदाय जाति वर्ग विशेष का नाम नहीं लिया। वह बोले कि औरत कोई बच्चे पैदा करने की मशीन नहीं है। साक्षी महाराज बोले कि लालू प्रसाद यादव के भी एक दर्जन बच्चे हैं, दशरथ की तीन रानियां थी लेकिन आज वह वक्त नहीं रहा मीडिया ने मेरे बयान का गलत मतलब निकाल करके दिखाया।

उन्होंने कहा कि मैंने संतो के प्रोग्राम में यह बात कही थी कि जनसँख्या वृद्धि हो रही है, उसको रोकना चाहिए मैंने कोई चुनावी सभा में यह बात नहीं कही थी। इसलिए कोई भी चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन नहीं किया है हम साधु संत हैं साधु संत सम्मेलन में ऐसी बातें कहते हैं जनसंख्या वृद्धि रोकने के लिए आगे भी आवाज उठाता रहूंगा मैंने किसी एक जाति समुदाय के लिए यह बात नहीं करती मैं पूरे देश के लिए बात बोलता हूं की जनसंख्या वृद्धि पर रोक लगनी चाहिए।

आपको बता दें कि बीते दिनों उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में हुए एक सन्त समागम में साक्षी महाराज ने कहा था कि  जनसंख्या को लेकर देश में एक सख्त और बढ़िया कानून लाने की आवश्यकता है चाहे बच्चा एक हो या चार हों सबके लिए समान कानून बनाने का समय आ गया है।

उन्होंने कहा था कि अगर जनसंख्या बढ़ती चली जा रही है तो इसका ज़िम्मेदार हिन्दू नहीं है और साक्षी महाराज तो बिल्कुल नहीं है बल्कि इसका जिम्मेदार वो लोग हैं जिन्होंने चार बीवियां और चालीस बच्चे पैदा किये हैं। उन्होंने कहा कि अब चार बीवी और चालीस बच्चे का समय नहीं रहा है अब ये नहीं चलेगा। माताएं कोई मशीन नहीं है।

उनके इस बयान के खिलाफ चुनाव आयोग ने सख्त कार्रवाई करते हुए कारण बताओ नोटिस जारी कर दी गई थी। जिसमें उनसे पूछा गया था कि आखिर उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों न की जाए। इस नोटिस का जवाब देने के लिए साक्षी महाराज को बुधवार तक का समय दिया था।

 

 

loading...
शेयर करें