सारा मामले में अमनमणि को मिली बड़ी राहत, हाईकोर्ट ने दी सशर्त जमानत

0

इलाहाबद। उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव में नौतनवा विधानसभा क्षेत्र के निर्दलीय प्रत्याशी अमनमणि त्रिपाठी को आज इलाहाबाद हाइकोर्ट से सशर्त जमानत मिल गई है। हत्यारोपी अमनमणि अमरमणि त्रिपाठी के बेटे हैं। अमरमणि त्रिपाठी उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री पद पर रह चुकें हैं।

अमनमणि त्रिपाठी

अमनमणि त्रिपाठी पर है पत्नी हत्या का आरोप

अमनमणि पर फ़िरोज़ाबाद में पत्नी सारा सिंह की हत्या का आरोप है। हत्या के आरोप में अमनमणि को गाजियाबाद की डासना जेल में रखा गया है।

अमनमणि के बेल के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट में अपील की गई थी। हाईकोर्ट ने आज अमनमणि के बेल की सशर्त मंजूरी दे दी है। यह मंजूरी इलाहाबाद हाईकोर्ट में न्यायाधीश विपिन सिन्हा की एकलपीठ ने दी है। इस मामले की जाँच सीबीआई कर रही है।

चौंकाने वाली बात तो ये है कि अमनमणि के पिता पूर्वमंत्री अमरमणि भी लखनऊ में कवियत्री मधुमिता के हत्याकांड में आजेवेन कारावास की सजा पर हैं।

बताते चलें कि अमनमणि पहले समाजवादी पार्टी के नेता थे और पार्ट्री ने इसनको उम्मीदवार भी घोषित किया था।लेकिन बाद में इनको समाजवादीपार्टी ने बहार कर दिया था। पार्टी से बाहर किये जाने पर अमनमणि निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में सामने आये थे।

loading...
शेयर करें