जंगल में पड़ा मिला प्राइवेट सिक्योरिटी गार्ड का शव, दो के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज

0

इलाहाबाद: उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद जिले में बुधवार देर रात पुलिस को बहरिया के जंगलों में एक लाश प्राप्त हुई। यह लाश प्राइवेट सिक्योरिटी गार्ड राजेंद्र उपाध्याय (45) की थी जिनकी हत्या कर शव जंगल में फेंक दिया गया था। पहले तो शव की पहचान न हो पाने के कारण पुलिस ने पंचनामा भरकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था, बाद में परिजनों ने शव को पहचान लिया। परिजनों ने इस मामले में एजेंसी मालिक सहित दो लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज करा दिया है।

सिक्योरिटी गार्ड

सिक्योरिटी गार्ड की हत्या कर शव जंगल में फेंका

मिली जानकारी के अनुसार, बमरौली के बेगम बाजार निवासी राजेंद्र कुमार उपाध्याय अशोक नगर स्थित बाबा डाट कॉम एजेंसी में प्राइवेट सिक्योरिटी गार्ड के तौर पर काम कर रहे थे।

मृतक की पत्नी रमा देवी की ओर से थाना धूमनगंज में एजेंसी मालिक और एक अन्य के खिलाफ हत्या और हत्या करके शव और शस्त्र दोनों को छिपाने का मुकदमा दर्ज करा दिया गया है। दूसरी ओर नामजद दूसरे आरोपी विष्णु पा़ंडेय का कहना है कि हत्या से कोई मतलब नहीं हैं। वह तो सिर्फ आलोक मिश्र के मुकदमों की पैरवी करते हैं।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में राजेंद की मौत को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं हुई है। सिर और हाथ पैर पर चोट के निशान हैं। हाथ पैर को किसी जानवर के खाने की संभावना व्यक्त की जा रही है। पेट और चेहरे पर चमड़ी नहीं थी। मौत की वजह जहरीला पदार्थ खिलाना या फिर मारपीट सकती है, इसीलिए मृतक का विसरा सुरक्षित रख लिया है। जिसे परीक्षण के लिए प्रयोगशाला भेजा जाएगा।

loading...
शेयर करें