सिर्फ जीवित ही नहीं, अपने मृत कर्मचारियों के परिवार का भी खासा ध्यान रखती है ये कंपनी

सिलीकॉन वैली। क्या आपने कभी ऐसी कंपनी के बारे में सुना है जो मरने के बाद भी अपने कमचारियों का ख्याल रखती हो, आम तौर पर कंपनियां तब तक ही अपने कर्मचारियों की परवाह करती है जब तक वे उसके काम का हो। मगर आज हम आपको एक ऐसी कंपनी के बारे में बताएगे जो अपने कर्मचारियों के मरने के बाद भी उसके परिवार की पूरी जिम्मेदारी निभाती है।

google_death

हम बात कर रहे है दुनिया की सबसे बड़ी सर्च कंपनी गूगल की। ताड़ी कोई व्यक्ति गूगल में काम करते हुए मृतु को प्राप्त हो जाता है तो कंपनी आगामी 10 वर्षों तक उसके परिवार या पार्टनर को कर्मचारी की आधी सैलरी उसके घर भेजवाती है। और तो और यदि मृत व्यक्ति के परिवार को आर्थिक सहायता की जरुरत हो तो गूगल उसे ये भी प्रदान करती है।

फोर्ब्स मैगजीन में छपे आर्टिकल के मुताबिक गूगल कर्मचारी के हर बच्चे को 19 साल की उम्र तक 1000 डॉलर प्रति महीने की राशि दी जाती है। गूगल ने अपने कर्मचारियों के लिए ‘डेथ बेनिफिट्स’ तय कर रखे हैं और कहा जाता है कि इसके जरिए कंपनी अपने कर्मचारियों के परिवारों को वे सुविधाएं देती हैं, जो कई कंपनियों के जिंदा कर्मचारियों को नहीं मिलती।

गूगल ये सुविधा अपने हर कर्मचारियों को देता है, चाहे वो कर्मचारी अनुभवी हो या न हो। आपको यह जानकार भी आश्चर्य होगा कि आज गूगल के सबसे सीनियर कर्मचारी की उम्र 83 साल है।

Related Articles