सीएम अखिलेश को खेलते देखा तो इस महिला ने पकड़ लिये पैर

0

लखनऊ। विपक्ष कुछ भी कहे सीएम अखिलेश यादव की लोकप्रियता बरकरार है। लोगों का विश्वास है कि वह मिल गये तो न्याय भी मिल ही जाएगा। इसीलिए हर व्यक्ति उनसे सीधे मिलने की कोशिश करता रहता है। जो नहीं मिल पाता वह मौके की तलाश में रहता है।

ऐसा ही कुछ वाकया तब हुआ जब इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज (आईएएस) वीक के आखिरी दिन रविवार को लखनऊ में लॉ मार्टिनियर स्कूल के मैदान में सीएम-11 और आईएएस-11 के बीच क्रिकेट मैच खेला गया। इस दौरान मैच के ड्रिंक टाइम में चीफ मिनिस्टर की सुरक्षा में दो बार चूक भी हुई। सीएम अखिलेश ग्राउंड पर खेल रहे थे और उनकी सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मी भी इतना मस्त हो गए की सुरक्षा घेरा छोड़ मैच का लुफ्त उठाने लगे।

सीएम अखिलेश

सीएम अखिलेश के पास पहुंची महिला अफसरों के छूटे पसीने

इस दौरान पहले एक महिला रोती हुई अपने बच्चे के साथ सीएम अखिलेश से फरियाद करने पहुंच गयी। वह सीधा सीएम के पैर पर गिर गयी और इन्साफ मांगने लगी। जिसके बाद सुरक्षा कर्मी उसको पकड़ने के लिए ग्राउंड पर दौड़ पड़े। इसके कुछ देर बाद एक और फरियादी उनसे मिलने पहुंचा। इसके बावजूद अखिलेश ने दोनों को मदद का आश्वासन देते हुए अपने घर बुलाया।

सीएम का सुरक्षा घेरा तोड़ कर पहुंची ज्योति सिंह सीएम के पैरों पर गिर पड़ी। उसने बताया कि वह एलडीए कालोनी कानपुर रोड की निवासी है और उसने कुछ समय पहले एक निजी स्कूल के प्रिंसिपल पर शोषण करने की एफआईआर दर्ज कराई थी। उसने सीएम से कहा कि कुछ लोग उसकी हत्या करवाना चाहते हैं।पुलिस और प्रशासन कोई मदद नहीं कर रहा है, इसलिए वह उसकी मदद करें।

इसके बाद से कुछ दबंग उसे आये दिन परेशान करते हैं और मुकदमा वापस करने का दबाव बना रहे हैं। इसके चलते उसने पुलिस अधिकारियों से लेकर डीजीपी ऑफिस तक गुहार लगाई लेकिन उसकी सुनवाई नहीं हुई।

इसलिए वह अपने बच्चे के साथ सीएम से फरियाद करने पहुंची। वह सीधा सीएम के पैर पर गिर गयी और इन्साफ मांगने लगी। जिसके बाद सुरक्षा कर्मी उसको पकड़ने के लिए ग्राउंड पर दौड़ पड़े। सीएम ने उसे मदद का आश्वासन देकर घर आने को कहा और उसे भरोसा दिलाया कि उसकी समस्या का निवारण जल्द ही किया जायेगा।

 

loading...
शेयर करें