सीएम अखिलेश यादव शेरों को बचाने के लिए करा रहे तंत्र-मंत्र!

लखनऊ। सीएम अखिलेश यादव की इटावा लॉयन फैंटेसी से दुनिया वाकिफ है। लेकिन अब खबरें आ रही हैं कि अफसराें के कहने पर सीएम अखिलेश यादव इन दिनों ड्रीम प्रोजेक्ट लॉयन सफारी के लिए तंत्र-मंत्र का सहारा ले रहे हैं।

सीएम अखिलेश यादव

सीएम अखिलेश यादव की चिंता

खबरों के मुताबिक आठ शेरों की मौत के बाद इटावा में स्‍वामी दिनेशानंद जी महाराज ने लाॅयन सफारी की बुरी बलाओं को टालने के लिए हवन किया। यह सब उन आला अफसरों के कहने पर हुआ, जिन्‍होंने सीएम को तंत्र-मंत्र के जरिए लॉयन सफारी में आई बला को टालने का सुझाव दिया था।

हालांकि यूपी के वन विभाग के इस अंधविश्‍वासी रवैये का विरोध शुरू हो गया है। वन्‍य जीव विशेषज्ञों का कहना है कि सफारी में शेरों की बीमारी का इलाज करने की जरूरत है। लेकिन तांत्रिकों और पंडितों से पूजा पाठ और हवन करवाया जा रहा है।

पत्रिका की खबर के मुताबिक इटावा में स्वामी दिनेशानंद जी महाराज ने मंत्रोच्चार के साथ सफारी पर लगी बुरी नजर को दूर करने के लिए प्रार्थना की। शेरों के बचाने के इस अंधविश्‍वास में देश के जाने-माने तांत्रिकों को भी बुलाने की तैयारी है। इसके लिए कोलकाता और बनारस में तांत्रिकों से बात की गई है।

सीएम अखिलेश यादव

दूसरी तरह वन्यजीव विशेषज्ञ इस अंधविश्‍वास का विरोध कर रहे हैं। वन विभाग की इस कार्यशैली की निंदा की जा रही है। विशेषज्ञों का कहना है कि विभाग को सफारी के ब्रीडिंग सेंटर में शेरों के रख-रखाव और उनकी दवाओं पर ध्यान देने की जरुरत है, न की तंत्र-मंत्र का सहारा लेने की। इंग्लैण्ड के डॉक्टर सफारी के शेरों को देख रहे हैं, जबकि बरेली के आईवीआरआई में बेहतरीन वेटनरी डॉक्टर हैं। फिर उनसे शेरों का ट्रीटमेंट क्यों नहीं करवाया जा रहा?

इस मामले में उत्तर प्रदेश के वन्य जीव संरक्षक रूपक डे पर भी आरोप लग रहे हैं कि उनके कहने पर ही सीएम अखिलेश यादव तंत्र-मंत्र करवाने के लिए राजी हुए हैं। बता दें कि बीतें दिनों अखिलेश यादव ने लायर सफारी को संवारने के लिए इंग्‍लैण्‍ड से आई एक टीम से भी मुलाकात की थी। सीएम ने इसकी फोटो भी फेसबुक पर शेयर की थी।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button