सीएम योगी ने इंसेफेलाइटिस के खिलाफ चलाई मुहीम

लखनऊ: आज यानी सोमवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने पांच कालिदास मार्ग स्थित जनता दर्शन कार्यक्रम में मीजल्स-रूबेला जैसी खतरनाक बीमारियों से बच्चों के बचाव के लिए टीकाकरण अभियान का शुभारम्भ किया.

इस अभियान के तहत 9 से 15 वर्ष तक के बच्चों को मीजल्स व रूबेला जैसी खतरनाक बीमारियों के बारे में बताया गया. यह अभियान पांच हफ़्तों तक चलेगा. इसमें शिक्षा एवं स्वस्थ्य कल्याण विभाग की भी अहम् भूमिका रहेगी.

सीएम योगी

इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मीजल्स व रूबेला जैसी बीमारियों से देश को मुक्त कराने के लिए हम सभी को मिलकर आगे आना होगा. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि पिछले डेढ़ वर्षों में यूपी सरकार ने इंसेफेलाइटिस से मुक्ति के लिए प्रदेश के 38 जिलों में अभियान चलाया था. जिसमें महिला एवं बाल विकास विभाग, परिवार कल्याण विभाग व पंचायती राज सहित कई विभागों ने भागीदारी की थी.

इसके साथ ही सीएम योगी ने आंकड़ों का जिक्र करते हुआ कहा कि पिछले 25 वर्षों से गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में हर वर्ष इंसेफेलाइटिस से पीड़ित 500-600 बच्चे भर्ती होते थे. जिनमें से करीब 125-150 बच्चों की हर वर्ष मौत हो जाती थी. विभागों के सामूहिक तौर पर काम करने का परिणाम ये है कि इस वर्ष सिर्फ 86 बच्चे ही मेडिकल कॉलेज में भारती हुए और सिर्फ 6 बच्चों की मौत हुई.

ये दिखाता है कि मीजल्स-रूबेला बीमारी के खिलाफ सभी विभाग अभियान में सक्रियता से भागीदारी करें तो बच्चों की इन बीमारियों से मुक्त कराया जा सकता है.

Related Articles