ओवैसी ने सुब्रमण्यम स्वामी से लिखित में मांगा राष्ट्रविरोधी होने का सबूत

0

नई दिल्ली। बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी और एआईएमआईएम के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी आपस में भीड़ गए। एक टीवी कार्यक्रम के दौरान स्वामी ने ओवैसी के पर उनके ‘भारत माता की जय’ के नारे को लेकर हमला बोला। उन्होंने ओवैसी को राष्ट्रविरोधी बताया है।

सुब्रमण्यम स्वामी

राष्ट्रविरोधी होने का दें सबूत

इस पर असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि मैं ‘जय हिंद’ बोलने में फख्र महसूस करता हूं और ये अधिकार मुझे संविधान ने दिया है। उन्होंने कहा कि इस देश के संविधान ने सबको समान अधिकार दिया है तो फिर मैं राष्ट्रविरोधी कैसे हो गया। ओवैसी ने कहा कि अगर स्वामी जी को लगता है कि मैं राष्ट्रविरोधी हूं तो वो इसका सबूत लिखित में दें।

मोदी पर साधा निशाना

ओवैसी ने यहां पर मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि पाकिस्तान को लेकर मोदी सरकार की कोई नीति नहीं है, इसलिए आतंकवाद को लेकर सरकार अब तक पाकिस्तान को घेरने में नाकाम रही है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि अगर अभी नवाज शरीफ के घर कोई शादी हो तो मोदी जी वहां बिना सोचे-समझे पहुंच जाएंगे। ओवैसी के बयानों को काटते हुए स्वामी ने कहा कि आज की तारीख में दुनिया मोदी को मानती है बस ओवैसी हैं जो नहीं मानते।

महबूबा की बर्खास्तगी चाहते हैं लोग

स्वामी ने जम्मू-कश्मीर में मौजूदा हालात को लेकर पार्टी से अलग रुख प्रकट किया है। उन्होंने कहा कि राज्य की महबूबा मुफ्ती सरकार को बर्खास्त कर वहां राष्ट्रपति शासन लगा देना चाहिए। स्वामी ने कहा कि राज्य में पीडीपी-भाजपा गठबंधन का प्रयोग फेल हो गया है। हमने जम्मू और लद्दाख में हमारी और कश्मीर घाटी में पीडीपी की जीत के बाद यह प्रयोग किया था।

लेकिन अब वह और उनके जैसे कई लोग महबूबा मुफ्ती सरकार का इस्तीफा नहीं बल्कि उसकी बर्खास्तगी चाहते हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में हिंसक प्रदर्शनों को रोकने के लिए सेना द्वारा सख्ती जरूरी है।

loading...
शेयर करें