सहारनपुर हिंसा को लेकर पहली बार बोले सुरेश राणा

0

सहारनपुर। सांप्रदायिक हिंसा को लेकर सभी पार्टियां एक-दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रहीं हैं। इसी कड़ी में प्रदेश गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार सुरेश राणा ने कहा कि प्रदेश में घो रहे विकास को रोकने के लिए दंगा कराने की कोशिश की जा रही है। लेकिन उनकी साजिश को कामयाब नहीं होने दिया जायेगा।

सुरेश राणा

सुरेश राणा ने कहा कि किसी भी निर्दोष पर कार्रवाई नहीं होने दी जाएगी

राणा ने कहा कि सहारनपुर में 20 अप्रैल को सड़क दूधली में सांप्रदायिक हिंसा कराने वालों ने ही शब्बीरपुर-महेशपुर में जातीय हिंसा कराई। हम प्रदेश में हो रही ऐसी घटनाओं को रोकने की पूरी कोशिश करेंगे। और उन लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी जो ऐसे लोगों की मदद करने के लिए फंडिंग कर रहें हैं।

राणा ने कहा कि सहारनपुर के एक गैर भाजपा नेता के खाते में विस चुनाव के दौरान करोड़ों रुपये जमा हुए हैं। इसी नेता ने सहारनपुर के भूमाफिया से मिलकर सदर तहसील में अनुसूचित समाज के लोगों को एक बेशकीमती जमीन से वंचित किया। इस नेता की जांच भी हो रही है। राणा ने कहा कि हम महाराणा प्रताप के साथ ही डा. भीमराव अंबेडकर का भी उतना ही सम्मान करते हैं, इसलिए किसी भी निर्दोष पर कार्रवाई नहीं होने दी जाएगी।

राणा ने कहा कि दोषियों को किसी तरह बख्शा नहीं जाएगा। ऐसे मामलों से लेकर पूर्व की सरकारों में हुए घोटालों की खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मॉनीटरिंग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बसपा के समय बेचीं गयी बीडवी चीनी मिल के बारे में भी जांच चल रही है।

loading...
शेयर करें