छोटे को नहीं पसंद आया बड़े भाई का गाना तो कुल्हाड़ी से कर दिए टुकड़े-टुकड़े

0

रायपुर। गाना गाना बुरी बात नहीं है लेकिन अगर किसी को आपके सुर लगाने से दिक्कत हो रही हो तो बेशक इसे बंद कर देना चाहिए। ऐसे ही एक मामले में एक 40 साल के व्यक्ति ने अपने बड़े भाई के सिर्फ इसीलिए टुकड़े-टुकड़े कर दिए क्योंकि वह रात को उसे गाना सुनाकर परेशान कर रहा था।

सुर लगाने से दिक्कत

सुर लगाने से दिक्कत थी छोटे भाई को, अक्सर होता था झगड़ा

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, छत्तीसगढ़ के बलद जिले के दौंडिलहारा में कई ग्रामीणों ने इस खौफनाक मंजर को देखा, जब सुरेश कुमार अपने बड़े भाई चिंतुरम (45) को घर से बाहर घसीटकर लाया। सुरेश ने चिंतुरम को बिजली के खंभे से बांध दिया और उसके बाद बड़ी दरिंदगी से पहले कुल्हाड़ी से अपने बड़े भाई के दोनों हाथ काटे और फिर गर्दन को धड़ से अलग कर दिया।

खबरों की गर मानें तो सुरेश का गुस्सा जब शांत हुआ तो वह खून से सनी कुल्हाड़ी लेकर मांगछुआ पुलिस स्टेशन पहुंचा और सरेंडर कर दिया। पुलिस के मुताबिक, अपने भाई को मारते समय सुरेश के सिर पर चोट लगी और एक उंगली भी कट गई। ग्रामीणों का कहना था कि चिंतुरम की आवाज बेहद तीखी थी और वह अकसर अपने भाई को चिढ़ाने के लिए जोर-जोर से गाया करता था।

ग्रामीणों ने बताया कि उनके बीच में झगड़ा होना एक आम बात थी और उनकी पत्नियां इन झगड़ों से तंग आ चुकी थीं। पुलिस ने बताया, ‘मंगलवार को दोनों भाई एक ही कमरे में सो रहे थे, तभी चिंतुरम ने गाना शुरू कर दिया। सुरेश गुस्से में उठा और उसने भाई को पीटना शुरू कर दिया।

इसके बदले में चिंतुरम ने अपने भाई को डराने के लिए कुल्हाड़ी उठा ली लेकिन सुरेश उस पर हावी हो गया। उसने कुल्हाड़ी छीनी और उसे घसीटते हुए घर से बाहर ले गया। उसने चिंतुरम को खंभे से बांध दिया। गांव वालों ने रोकने की कोशिश की लेकिन सुरेश ने उन्हें भी जान से मारने की धमकी दे दी।’ डर से सहमे हुए गांववालों और परिवार के सदस्यों के सामने सुरेश ने अपने भाई की हत्या कर दी।

loading...
शेयर करें