स्टिंग वीडियो मामला : सीएम रावत से कल सीबीआई करेगी पूछताछ

0

स्टिंग वीडियोदेहरादून। उत्तराखंड सीएम हरीश रावत की मुश्किलें कम होती नज़र नहीं आ रही हैं। विधायकों की खरीद-फरोख्त के स्टिंग वीडियो की जांच कर रही सीबीआई ने सीएम हरीश रावत को नोटिस भेजा है। सीबीआई ने हरीश रावत को स्टिंग मामले में पूछताछ ‌के लिए 24 मई को एजेंसी के सामने पेश होने को कहा है।

स्टिंग वीडियो मामले में सीएम रावत को नोटिस भेजकर बुलाया

सीएम हरीश रावत के स्टिंग वीडियो की जांच एक बार फिर आगे बढ़ी है। हाईकोर्ट से सीबीआई जांच की रोक लगाने के इनकार के बाद सीबीआई ने मामले की जांच में कदम आगे बढ़ाए हैं। इसी सिलसिले में केंद्रीय जांच एजेंसी ने रावत को नोटिस भेजकर बुलाया है।

स्टिंग मामले में हाईकोर्ट ने जांच पर रोक लगाने से किया इनकार

विधायकों की खरीद-फरोख्त की स्टिंग के मामले की जांच सीबीआई कर रही है। इससे पहले सीएम हरीश रावत ने राष्ट्रपति शासन के दौरान केंद्र को भेजी गई केंद्रीय एजेंसी से जांच की मांग की अधिसूचना वापस ले ली थी। लेकिन केंद्र ने जांच से केंद्रीय एजेंसी को हटाने से इनकार कर दिया था।

इसके बाद सीएम हरीश रावत ने सीबीआई को जांच से हटाने के लिए नैनीताल हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। सुनवाई के बाद हाईकोर्ट ने जांच पर रोक लगाने से इनकार करते हुए सीएम को जांच में सहयोग देने को कहा था।

उत्‍तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने इस स्टिंग की सीडी को झूठा करार दिया है। उन्‍होंने कहा कि इस सी‍डी के जरिए उनकी सरकार की छवि को खराब करने की कोशिश की जा रही है। हरीश रावत ने कहा है कि बागी विधायक अब कांग्रेस में नहीं हैं। उन्‍होंने पत्रकारों पर भी निशाना साधा। रावत ने कहा कि उन्‍हें ब्‍लैकमेल करने के लिए पत्रकारों और विधायकों का गठबंधन बन चुका है। उन्‍होंने स्टिंग करने वाले पत्रकार की संपत्ति पर भी सवाल उठाए।

स्टिंग ऑपरेशन की सीडी सामने आने के बाद से रावत सरकार की मुश्किलें और बढ गई हैं। स्टिंग की सीडी को राष्‍ट्रपति के पास भी भेज दिया गया है। कांग्रेस के बागी विधायकों और भाजपा ने राष्‍ट्र‍पति से मांग की है कि रावत सरकार को तत्‍काल प्रभाव से बर्खास्त कर उत्तराखंड में राष्‍ट्र‍पति शासन लागू किया जाए।

loading...
शेयर करें