भारत के खिलाफ स्लेजिंग करने से अपने खिलाड़ियों को नहीं रोकेंगे स्टीवन स्मिथ

0

मुंबई।  भारत दौरे पर आई आस्ट्रेलिया टीम के कप्तान स्टीवन स्मिथ ने मंगलवार को कहा कि वह श्रृंखला में अपने खिलाड़ियों को आक्रामक रवैया अपनाने से और स्लेजिंग करने से नहीं रोकेंगे। स्मिथ ने कहा है कि अगर ऐसा रुख अख्तियार करने से उनके खिलाड़ी अपना सर्वश्रेष्ठ दे सकते हैं तो वह इसे नहीं रोकेंगे।

वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो ने स्टीवन स्मिथ के हवाले से लिखा कि हमारा हर खिलाड़ी उसी तरह से खेलेगा जैसा वो खेलता है। अगर वह स्लेजिंग करते हैं और यह उनके अंदर से बेहतर खेल निकलवा सकती है तो उन्हें बेशक इसके साथ जाना चाहिए। यह सब सिर्फ इस बात को सुनिश्चित करना है कि हम मैदान पर सही मानसिकता के साथ उतरें और सफलता हासिल करें। साथ ही इस बात को भी सुनिश्चित करें कि हमारी योग्यता टीम को सफलता दिलाए।

स्टीवन स्मिथ

स्टीवन स्मिथ ने गेंदबाजों पर जताया भरोसा 

भारत की स्पिन की मददगार पिचों के लिए आस्ट्रेलिया ने अपनी टीम में चार स्पिन गेंदबाजों को जगह दी है। स्मिथ ने अपने गेंदबाजों पर भरोसा जताया है और कहा है कि जोश हेजलवुड, मिशेल स्टार्क, स्टीवन ओ कैफी, नाथन लॉयन के अलावा मिशेल स्वेपसन और एश्टन अगर जैसे गेंदबाजों ने किसी भी टीम के 20 विकेट लेने का दम है।

स्टीवन स्मिथ ने कहा कि मुझे अपने गेंदबाजों पर भरोसा है। हमारे पास गेंदबाजों का अच्छा मिश्रण है। गेंदबाज काफी मेहनत कर रहे हैं। स्मिथ ने कहा है कि इस दौरे पर स्पिन के अलावा रिवर्स स्विंग अहम रोल अदा करेगी।

आस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा कि मेरा मानना है कि इस श्रृंखला में रिवर्स स्विंग का भी अहम रोल होगा। हमारे दो तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड और मिशेल स्टार्क दोनों ही अच्छे रिवर्स स्विंग गेंदबाज हैं। वह विश्व के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों के सामने गेंदबाजी करना पसंद करते हैं और भारत के पास अच्छे बल्लेबाज हैं, इसलिए वे यहां मिलने वाली चुनौती के प्रति उत्सुक होंगे। 

हाल में आस्ट्रेलिया का भारत में प्रदर्शन निराशाजनक रहा है। इसके अलावा टीम एशिया में अन्य जगहों पर भी बुरे प्रदर्शन से गुजरी है। हाल ही में उसे श्रीलंका ने अपने घर में मात दी थी। आस्ट्रेलिया को अपने घर में दक्षिण अफ्रीका ने भी हराया था। बावजूद इसके स्मिथ को भरोसा है कि टीम इस बार बेहतर प्रदर्शन करेगी।

उन्होंने कहा, “आप मैच जीतने की अपेक्षा मैच हारने से ज्यादा सीखते हैं। पिछला साल हमारे लिए उतार चढ़ाव भरा रहा। इस टीम ने काफी कुछ सीखा है। हम और सीखने को तैयार हैं। हमारी कोशिश और मेहनत कर अपना सर्वश्रेष्ठ देकर अच्छे परिणाम देने की होगी। इस समय हम जहां हैं, मैं उससे खुश हूं।”

उन्होंने कहा, “जाहिर सी बात है यह दौरा हमारे लिए मुश्किल है। मैं इस चुनौती के लिए तैयार हूं। अगले छह सप्ताह में जो होने वाला है उसे लेकर टीम के खिलाड़ी भी काफी उस्ताहित हैं। भारत में खेलना कठिन चुनौती है।” आस्ट्रेलियाई टीम गुरुवार से इंडिया-ए के खिलाफ अभ्यास मैच खेलेगी।

loading...
शेयर करें