मोदी सरकार स्वच्छता अभियान के बाद चलाएगी स्तनपान अभियान

0

नई दिल्‍ली। पीएम मोदी ने सत्‍ता में आते ही स्वच्‍छता अभियान को लेकर मुद्दा बनाया। पीएम मोदी पूरे देश को स्‍वच्‍छ देखना चाहते हैं। इसके बाद मोदी सरकार अब  स्तनपान अभियान की जंग छेड़ने जा रही है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जेपी नड्डा ने बताया कि हर मां को स्‍तनपान को बढ़ावा देना चाहिए।

स्तनपान अभियान

स्तनपान अभियान को बनाना है प्रभावी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे.पी. नड्डा ने यह भी कहा कि मानव विकास की स्वाभाविक और लागत प्रभावी प्रक्रिया है। इसलिए हर स्तर पर स्तनपान को बढ़ावा देना चाहिए। हमें स्तनपान को पसंद करना चाहिए। यह मौत, बीमारी और गरीबी के खिलाफ बच्चे का पहला टीका है।

Health-Minister-JP-Nadda

एक कार्यक्रम में दिया  स्तनपान अभियान पर बयान

केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री नड्डा स्तनपान को बढ़ावा देने के लिए एक प्रमुख कार्यक्रम ‘निरपेक्ष मातृ स्नेह’ (एमएए) के उद्घाटन अवसर पर बोल रहे थे। इस अवसर पर नवनियुक्त केंद्रीय राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल, फग्गन सिंह कुलस्ते और अभिनेत्री माधुरी दीक्षित उपस्थित थीं। इस अभियान के लिए माधुरी दीक्षित यूनिसेफ की प्रतिष्ठित प्रचारक भी हैं।

मां और बच्‍चे में खास संबंध बनाता है स्‍तनपान

स्तनपान के प्रति जागरूकता पर जोर देते हुए केंद्रीय मंत्री कुलस्ते ने कहा कि जागरूकता लोगों के बीच बुनियाद है और मिथकों एवं गलत धारणाओं को दूर करने के लिए हमें काम करना है। स्तनपान मां और बच्चे के बीच एक खास संबंध निर्मित करता है और स्तनपान के दौरान मां और बच्चे के बीच बातचीत का बच्चे के जीवन पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। स्वास्थ्य मंत्रालाय के अनुसार, अपर्याप्त स्तनपान का बच्चों की मौतों में करीब 13 प्रतिशत योगदान है।

अनुप्रिया पटेल

स्‍तनपान को प्रोत्‍साहित करना जरूरी

इस अवसर पर अनुप्रिया पटेल ने कहा कि एमएए की शुरुआत से एक सक्षम माहौल तैयार होगा, जिससे माताओं, पतियों और परिवारों को पर्याप्त सूचना मिलना सुनिश्चित होगा और स्तनपान की प्रथा को प्रोत्साहित करने में सहायक होगा।

जल्‍द बनेगा राष्‍ट्रव्‍यापी अभियान

मंत्रालय ने कहा कि एमएए के रूप में एक राष्ट्रव्यापी कार्यक्रम शुरू किया गया है जो स्तनपान के प्रोत्साहन पर विशुद्ध रूप से ध्यान केंद्रित करने के लिए एक प्रयास है।

loading...
शेयर करें