स्मार्टफोन में पोर्न देखते हुए आपको देख रहा है कोई

0

नई दिल्ली। स्मार्टफोन में पोर्न देखना आपको भारी पड़ सकता है। आज हालात ये हो चुके हैं कि अब हर जेब में स्मार्टफोन आ चुका है। इसी के साथ स्मार्टफोन में पोर्न देखने वालों की संख्या भी बढ़ी है।

बड़े शहरों से लेकर देश के गांव कस्बों तक चोरी छिपे लोगों को अपनी सेक्शुअल ख्वाहिशें पूरी करते देखा जा सकता है। लेकिन आपका ये शौक आपको किसी मुसीबत में भी डाल सकता है, क्योंकि कोई है जो आपकी निगेहबानी कर रहा है। लोग जब बेपरवाही से अपने निजी स्मार्टफोन में पोर्न देख रहे होते हैं तब उन्हें इस बात का अंदाज़ा भी नहीं होता कि क्या-क्या हो सकता है।

स्मार्टफोन में पोर्न

स्मार्टफोन में पोर्न की हिस्ट्री का पूरा हिसाब

लेकिन आपको बताते चलें कि आप स्मार्टफोन में पोर्न देखने के लिए जिस कंपनी का सिम यूज़ कर रहे हैं उससे लेकर आपके फोन में इंस्टाल्ड एप्स तक आपके ब्राउज़िंग हिस्ट्री का हिसाब रखते हैं।  अगर आपको अबतक लग रहा था कि आप क्या देख रहे हैं ये किसी को नहीं पता तो आप बिल्कुल गलत थे।

वैसे कंपनिया ये ट्रैकिंग यूज़र के स्वभाव को समझने के लिए करती है ताकि कंपनी हर यूज़र को उसके रुचि के हिसाब से एड दिखाए। लेकिन ये ट्रैकिंग कब किसके लिए घातक साबित हो जाए, नहीं कह सकते।

इससे बचने का सबसे आसान तरीका है कि आप अपने स्मार्टफोन  में प्राइवेट ब्राउज़िंग या कुकीज़ डिलीट कर दें, इससे आप ट्रैकिंग से बच सकते हैं। डेटिंग साइट एश्ले मैडिसन की हैकिंस से लेकर आई क्लाउड की हैकिंग के बाद आमो-खास का डेटा सरेआम होने के बाद किसी भी इंटरनेट यूज़र को अपनी प्राइवेसी को लेकर सचेत होने की ज़रूरत है।

एक अनुमान के मुताबिक स्मार्टफोन आने के बाद से पोर्न देखने वालों की संख्या में करोड़ों का इजाफा हुआ है। दुनिया भर में पोर्न देखने वाले देशों की लिस्ट में भारत तीसरे नंबर के साथ टॉप 5 देशों में शामिल है।

loading...
शेयर करें