चाय वाले पर फिदा हुईं स्मृति ईरानी, बोलीं- अगली बार आऊंगी तो समोसा- चाउमीन खाऊंगी

अल्मोड़ा। हाल ही में अल्मोड़ा में एक जनसभा को संबोधित करने पहुंची भाजपा सरकार में केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी इन दिनों एक चाय वाले की वजह से चर्चा का विषय बन गई हैं। स्मृति का दिल एक गुमटी वाले की चाय पर आ गया और उन्होंने न सिर्फ चाय की चुस्की ली बल्कि अपने साथ चाय की रेसिपी भी ले गईं।

स्मृति ईरानी

स्मृति ईरानी को चाय पीते देख फैंस का लगा जमावड़ा

दरअसल, जब स्मृति ईरानी जनसभा स्थल की ओर जा रही थीं तभी रास्ते में उनकी नज़र एक चाय की गुमटी पर पड़ी। वहां से चाय और समोसों की इतनी अच्छी खूशबू आ रही थी कि वो अपने आपको रोक नहीं पाईं और गाड़ी रुकवाकर चाय की चुस्की लेने पहुंच गईं। 

जैसे ही स्मृति बालम दा की गुमटी पर जाकर खड़ी हुईं वैसे ही लोगों का जमावड़ा वहां इकट्ठा हो गया। बालम दा को तो यकीन ही नहीं हो रहा था कि उनकी दुकान पर स्मृति ईरानी खड़ी हैं। चाय की चुस्की लेते ही स्मृति पूछ बैठीं की चाय में क्या डाला है। बालम दा ने भी बता दिया कि इसमें अदरक, इलायची के साथ कुछ और चीजें है। अभी वह चाय की चुस्की के स्वाद से उबर भी नहीं पाई थी, समोसे की खुशबू ने स्मृति को परेशान कर दिया। फिर तो स्मृति ने पूछा कि आप और क्या-क्या बनाते हो। इसके बाद स्मृति ने वादा किया कि अगली बार वह आएंगी तो चाय के साथ समोसा और चाउमीन भी खाएंगी। वैसे स्मृति दिल्ली से अपने थरमस में चाय भर के लाई थीं लेकिन उन्होंने वो चाय फेंक कर बालम से दोबारा अपना थरमस फुल करा लिया।

वो कहते हैं वा ‘ऊंची दुकान फीके पकवान’, बड़े- बड़े होटलों में खाना खाने वाली स्मृति ईरानी को एक छोटी सी गुमटी का खाना इतना पसंद आया कि वो सबकुछ भूल गईं। 

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button