‘आप’ को टक्कर देने मैदान में उतरे योगेन्द्र और प्रशांत, ‘स्वराज इंडिया’ नाम से बनाई नई पार्टी

0

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (आप) से अलग हुए योगेन्द्र यादव और प्रशांत भूषण गुट ने महात्मा गांधी के जन्मदिन पर ‘स्वराज इंडिया’ नाम की  नई राजनीतिक पार्टी बनाने की घोषणा कर दी है। नई पार्टी का नाम ‘स्वराज इंडिया पार्टी’ रखा गया है। योगेन्द्र ने इसकी घोषणा करते हुए ‘आप’ पर जमकर हमला बोला और अगले वर्ष  होने वाले दिल्ली नगर निगमों के चुनाव में भी हिस्सा लेने का ऐलान किया।

'स्वराज इंडिया पार्टी'

‘स्वराज इंडिया पार्टी’ नाम से बनाई एक नई पार्टी, ‘आप’ के सामने कड़ी चुनौती

राजनीतिक पार्टी स्वराज इंडिया पार्टी के अध्यक्ष योगेंद्र यादव बनाए गए तो वहीं स्वराज अभियान के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रशांत भुषण बनाए गए हैं। वहीं स्वराज अभियान के मीडिया प्रभारी अनुपम को स्वराज इंडिया पार्टी का प्रवक्ता बनाया गया। इस पार्टी के अस्तित्व में आने के बाद अब दिल्ली के सियासत में आम आदमी पार्टी को एक नई चुनौती मिल सकती है, क्योंकि इस पार्टी के गठन में वही कार्यकर्ता और नेता हैं जो कभी आप के प्रमुख नेताओं में थे। स्वराज पार्टी इंडिया ने ये भी ऐलान कर दिया कि पार्टी 2017 में होने वाले एमसीडी का चुनाव लड़ेगे।

वहीं, पहली चुनौती के तौर पर स्वराज इंडिया ने इस महीने के अंत तक एक करोड़ रुपये जुटाने का लक्ष्य रखा है। पारसी अंजुमन गेस्ट हाउस के अधिवेशन में पार्टी संस्थापक सदस्य शांति भूषण ने कार्यकर्ताओं से दिल्ली में एमसीडी चुनाव लड़ने और चंदा जुटाने की अपील की।

‘आप’ पर साधा निशाना

स्वराज इंडिया के कायदे-कानूनों की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि पार्टी में सूचना का अधिकार होगा, आंतरिक लोकतंत्र होगा और अलग राय तथा समझ रखने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई नहीं की जाएगी। राजनीतिक पार्टियों को टिकट बांटने की दुकान बताते हुए उन्होंने कहा कि हम जनता के बीच जाकर उम्मीदवारों का चयन करेंगे। हमें टिकट बांटने की दुकान बंद करनी है और दूसरों की भी बंद करवानी है।‘आप’ पर जोरदार हमला बोलते हुए योगेन्द्र ने कहा कि जो पार्टी ‘बीमारी’ (गंदी राजनीति) को ठीक करने के लिए राजनीति में आई थी, आज वह पार्टी स्वयं सबसे बड़ी ‘बीमारी की शिकार’ है। ‘आप’ ने देश के करोड़ों लोगों के विश्वास के साथ धोखा किया है।

loading...
शेयर करें