हंदवाड़ा फिर सुलगा, सेना की फायरिंग में 12वीं के छात्र की मौत

0

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में सुरक्षा बलों और स्थानीय लोगों के बीच एक बार फिर झड़प हुई है। स्थानीय लोगों का प्रदर्शन हिंसक होने पर सुरक्षाबलों ने भीड़ को नियंत्रित करने के लिए फायरिंग की। फायरिंग में 12वीं के एक छात्र की माैत हो गई है। पांच लोग जख्मी भी हुए हैं। हंदवाड़ा में फायरिंग में मरने वालों की संख्या अब पांच हो गई है।

हंदवाड़ा में फायरिंग

हंदवाड़ा में फायरिंग

ताजा हिंसा शुक्रवार की दोपहर हंदवाड़ा के नुतनुसा इलाके में हुई। यहां प्रदर्शन कर रही भीड़ अचानक हिंसक हो गई। सुरक्षाबलों ने कार्रवाई की तो लोग हिंसक हो गए। सुरक्षाबलों ने फायरिंग कर दी, जिसमें छात्र की मौत हो गई।

यह सारा मामला 12 अप्रैल को शुरू हुआ। अफवाह उड़ी की सेना के बंकर के पास एक जवान ने शौचालय जा रही लड़की से छेड़छाड़ की। इसके बाद लोगों ने जवानों पर पत्थरबाजी शुरू कर दी। सुरक्षाबलों ने जवाब में फायरिंग की, जिसमें तीन लोग मारे गए। इन एक युवा क्रिकेटर और बुजुर्ग महिला भी शामिल थी।

हालांकि इस घटना के बाद पीडि़त युवती का एक वीडियो सामने आया, जिसमें उसने बताया कि छेड़छाड़ सेना के जवान ने नहीं, बल्कि स्थानीय लड़कों ने की थी। हालांकि तीन लाेगों के मारे जाने से गुस्सा भड़क गया। हालात को देखते हुए इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया था। इंटरनेट सेवा भी रोक दी गई थी।

इस घटना के बाद 13 अप्रैल को हंदवाड़ा के नजदीक दांगीवाची इलाके में आंसूगैस की गोली लगने से एक नौजवान बुरी तरह घायल हो गया। उसे अस्पताल ले जाया गया पर वह बच नहीं सका और इस घटनाक्रम में मरने वालों की संख्या चार हो गई। शुक्रवार को तीसरे बार हंदवाड़ा में फायरिंग में 12वीं के छात्र की मौत हो गई।

loading...
शेयर करें