हरीश रावत का स्टिंग : बागी विधायकों से खरीद-फरोख्त का वीडियो

0

देहरादून। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत का एक स्टिंग जारी किया गया है। ये स्टिंग उन्‍हीं की पार्टी के बागी विधायक हरक सिंह रावत ने जारी किया है। वीडियो में साफतौर पर हरीश रावत को देखा जा सकता है। इस स्टिंग के जरिए हरक सिंह ने दावा किया है कि मुख्यमंत्री विधायकों की खरीद-फरोख्त की कोशिश कर रहे हैं। मुख्यमंत्री हरीश रावत ने विधायकों को धमकाया भी है। ऐसे में सुरक्षा की मांग भी की गई है।

यह भी पढ़ें : हरीश रावत के वीडियो पर बागी बोले, बर्खास्त करो उत्तराखण्ड सरकार

हरीश रावत का स्टिंग

न्यूज चैनल समाचार प्लस की ओर से यह स्टिंग किया गया है। puridunia.com इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। बागी विधायक हरक सिंह ने यह आरोप भी लगाया है कि मुख्यमंत्री हरीश ने विधायकों को धमकाया भी है। ऐसे में सुरक्षा की मांग भी की गई है। स्टिंग के जरिए बागी विधायक ने कहा है कि इसमें पैसों के लेन-देन की बात चल रही है। हरक सिंह के अनुसार कई विधायकों को धमकी भरे फोन भी आए हैं। इस बीच कथित स्टिंग के वीडियो में मुख्यमंत्री हरीश रावत नजर आ रहे हैं।

हालांकि इस स्टिंग पर हरीश रावत की सफाई भी आ गई है। उत्‍तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने इस स्टिंग की सीडी को झूठा करार दिया है। उन्‍होंने कहा कि इस सी‍डी के जरिए उनकी सरकार की छवि को खराब करने की कोशिश की जा रही है। हरीश रावत ने कहा है कि बागी विधायक अब कांग्रेस में नहीं हैं। उन्‍होंने पत्रकारों पर भी निशाना साधा। रावत ने कहा कि उन्‍हें ब्‍लैकमेल करने के लिए पत्रकारों और विधायकों का गठबंधन बन चुका है। उन्‍होंने स्टिंग करने वाले पत्रकार की संपत्ति पर भी सवाल उठाए।

स्टिंग ऑपरेशन की सीडी सामने आने के बाद से रावत सरकार की मुश्किलें और बढ गई हैं। स्टिंग की सीडी को राष्‍ट्रपति के पास भी भेज दिया गया है। कांग्रेस के बागी विधायकों और भाजपा ने राष्‍ट्र‍पति से मांग की है कि रावत सरकार को तत्‍काल प्रभाव से बर्खास्त कर उत्तराखंड में राष्‍ट्र‍पति शासन लागू किया जाए।

ये वीडियो हमने यू-ट्यूब से लिया है जो एक टीवी चैनल इंडिया टीवी की ओर से अपलोड किया गया है।

दरअसल बीते एक हफ्ते से उत्तराखंड की राजनीति में घमासान मचा हुआ है। बीते दिनों उत्‍तराखंड में कांग्रेस के मुख्यमंत्री हरीश रावत की सरकार बुरी तरह से खतरे में आ गई। कांग्रेस के नौ बागी विधायकों के कारण उत्‍तराखंड में बीजेपी के विधायकों ने राज्यपाल से मुलाकात करके सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया। इसके बाद से ही हरीश रावत सरकार की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं। इस बीच 28 मार्च को रावत सरकार को बहुमत साबित करना है।

70 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस के 36 विधायक हैं जिनमें से 11 के बगावत की बात कही जा रही है। बसपा के भी एक विधायक ने विरोध दर्ज कराया है। विधानसभा में बीजेपी के 28 विधायक हैं।

 

loading...
शेयर करें