IPL
IPL

हलाल मीट ने कैंसिल करवाया लंच

पेरिस। हलाल मीट ने दो देशों के नेताओं के बीच हो रहे लंच को कैं‍सिल करवा दिया। लंच कैंसिल होने से दोनों देशों के रिश्ते खटाई में पड़ सकते हैं।

हलाल मीट

हलाल मीट की मांग नहीं हुई पूरी

फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद और ईरान के राष्ट्रपति हसन रोहानी के बीच होने वाला लंच इसलिए कैंसिल हो गया क्योंकि फ्रांस ने मेन्यू से वाइन हटाने से इनकार कर दिया था और ईरान की तरफ से की गई हलाल मीट की मांग पूरी नहीं हो पाई।

नहीं मिला हलाल मीट
पेरिस के एक अखबार की एक रिपोर्ट को अगर सच माने तो पेरिस के एक होटल में रोहानी और ओलांद के बीच लंच होना था लेकिन लंच के दौरान कौन सा पेय पदार्थ सर्व किया जाएगा, इस पर सहमति नहीं बन पाने की वजह से कार्यक्रम रद्द कर दिया गया। फ्रांस जहां लोकल फूड और वाइन परोसने पर जोर दे रहा था वहीं ईरानी अधिकारियों ने मांग की कि मुस्लिम रिवाजों के अनुसार हलाल मीट परोसा जाए। रिपोर्ट में कहा गया कि ओलांद के दफ्तर ने कहा कि ‘ईरान की सुविधाओं को ध्यान में रखकर’ परोसा जाने वाला खाना फ्रांस की रिपब्लिकन मूल्यों के खिलाफ होगा।

नहीं बन पाई सहमति
आखिर समय तक मेन्यू पर सहमति नहीं बन पाने की वजह से लंच कार्यक्रम को आखिर रद्द कर दिया गया। हालांकि, इसके बदले ब्रेकफास्ट का सुझाव दिया गया, पर रोहानी ने खाने को ‘काफी खराब’ बताकर ब्रेकफास्ट से इनकार कर दिया।

इटली के प्रधानमंत्री की भी हुई आलोचना
इससे पहले इटली के प्रधानमंत्री मातेओ रेंजी की आलोचना हो रही है थी कि उन्होंने देश की सांस्कृतिक पहचान को लेकर सरेंडर कर दिया। इटली के पीएम ने ईरानी राष्ट्रपति के स्वागत में प्राचीन काल की महिलाओं की नग्न मूर्तियों को ढकने का आदेश दिया था ताकि वह अपमानित महसूस न करें। ईरानी राष्ट्रपति दो दिनों के इटली दौरे पर पहुंचे थे। इटली के विपक्षी नेताओं और आलोचकों ने कहा थी कि मातेओ रेंजी ने ईरानी राष्ट्रपति के स्वागत में हद कर दी।

बुरा न मानें ईरानी प्रेजिडेंट इसलिए नग्न मूर्तियों को पहनाए कपड़े
परमाणु कार्यक्रम से संबंधित प्रतिबंध हटने के बाद रोहानी इन दिनों यूरोप की यात्रा पर हैं और कई बिजनस डील के बारे में पहल कर रहे हैं। इससे पहले जब वह इटली गए थे तो वहां की सरकार ने नग्न मूर्तियों को ढक दिया था। इसके पीछे वजह बताई गई थी कि ईरान की संस्कृति और संवेदनाओं को ध्यान में रखकर यह कदम उठाया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button