हा‍फिज सईद ने पा‍क आर्मी चीफ से कहा – अपनी सेना को कश्मीर भेजो, करो कब्ज़ा

0

इस्लामाबाद भारत के खिलाफ कश्मीर मुद्दे को लेकर जमात-उद-दावा प्रमुख हाफिज सईद ने एक बार फिर जहर उगला है। पाकिस्तान ने एक तरह से हाफिज सईद पर से बैन हटाकर उसे खुला छोड़ दिया है। कराची में डिफेंस काउंसिल की मीटिंग में मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड ने पाकिस्तानी आर्मी चीफ से कहा कि वो कश्मीर में न सिर्फ सेना भेजें, बल्कि‍ मोहम्मद अली जिन्ना के लंबित आदेश का पालन करें। सईद ने दावा किया कि कश्मीरियों ने विभाजन से पहले घोषणा की थी कि वे पाकिस्तान के साथ रहना चाहते हैं। लेकिन विभाजन के बाद भारत ने जबरन जम्मू कश्मीर में सेना भेज दी।

हाफिज सईद

हाफिज सईद ने पाकिस्तान के इशारे पर उठाया कश्मीर मुद्दा

हाफिज सईद के खिलाफ ‘पाकिस्तान इलेक्ट्रानिक मीडिया रेगुलेटरी अथॉरिटी (PEMRA)’ भी चुप है। हैरानी की बात ये है कि पेमरा ने ही पिछले साल नवंबर में पाकिस्तान के तमाम टीवी चैनल्स को एक ऑर्डर जारी कर कहा था वे हाफिज सईद पर कोई प्रोग्राम टेलिकास्ट न करें। सईद के साथ ही 60 और ऑर्गनाइजेशंस और व्यक्तियों को बैन की लिस्ट में रखा गया था। हालांकि, अब पेमरा बिल्कुल चुप है और माना जा रहा है कि पाकिस्तान सरकार के इशारे पर हाफिज सईद को कश्मीर मुद्दा उठाने की छूट दी गई है।

आतंकी बुरहान से संपर्क में था सईद

बीते दिनों हाफिज सईद के कई वीडियो सामने आए थे। यह वीडियो पाकिस्तान गुजरंवाला के बताए गए थे, जहां वह एक रैली को संबोधित कर रहा था। रैली में उसने मारे गए आतंकी बुरहान वानी और अलगाववादी नेता आसिया अंद्राबी का भी जिक्र किया था। हाफिज सईद ने कहा था कि शहादत से चंद दिन पहले बुरहान वाली ने मुझे कॉल किया था। उसने बताया कि उसकी आखिरी इच्छा मुझसे बात करने की थी। वानी ने कहा था कि अब मेरी आखिरी इच्छा पूरी हो गई है और अब मैं शहीद होने के लिए तैयार हूं।

loading...
शेयर करें