हार्दिक पटेल की रिहाई से डरी बीजेपी

0

हार्दिक पटेल सूरत। आरक्षण आंदोलन के युवा नेता हार्दिक पटेल की आज सूरत की लाजपोर जेल से रिहाई हो गई है। पटेल पर राजद्रोह केस चल रहा है। जिसके चलते उन्हें जेल में भेज दिया गया। जेल से निकलने के बाद पटेल को गोद में उठा कर उनके समर्थक बाहर तक ले आए। गुजरात हाईकोर्ट ने हार्दिक की जमानत याचिका मंजूर की थी। हार्दिक को बहार लाने के लिए उनके वकीलों ने कानूनी प्रक्रिया सुबह ही पूरी कर ली थी।

हार्दिक पटेल से मिलने पहुंचे उनके समर्थक

जेल के बाहर भारी संख्या में सुरक्षा के इंतजाम किए गए थे। इसके साथ ही काफी संख्या में वहां समर्थक भी पहुंचे थे। जेल से निकल कर हार्दिक पटेल ने समर्थकों से मुलाकात की। बच्चों ने तिलक लगाकर उनका स्वागत किया। उनकी बातों पर सबकी नजर होगी।

बता दें कि गुजरात के युवा पाटीदार नेता हार्दिक को गुजरात हाई कोर्ट ने जमानत दे दी थी। इसके साथ ही उनकी रिहाई का रास्ता साफ हो गया था। गुजरात हाईकोर्ट ने हार्दिक पर और सख्त शर्त लगाते हुए। उन्हें 9 महीने तक मेहसाना में दाखिल न होने का आदेश दिया है।

उनकी रिहाई अगले साल होने वाले गुजरात विधानसभा चुनाव के सियासी समीकरणों को नया रूप दे सकती है। पिछले हफ्ते हाईकोर्ट ने 6 महीने के लिए गुजरात निकाला की शर्त पर हार्दिक को दो मामलों में जमानत दी थी।

हार्दिक को राज्य से बाहर रहने को कहा गया है। पाटीदार नेता राज्य में आंदोलन को आगे बढ़ाने की बात कर रहे हैं। पाटीदार नेताओं के इस रुख से राज्य की बीजेपी सरकार के लिए मुसीबतें खड़ी हो सकती हैं।

loading...
शेयर करें