तीन तलाक के विरोध में मुस्लिम लड़की ने हिन्दू रीति-रिवाज के साथ हनुमान मंदिर में की शादी

0

जयपुर। राजस्थान के जोधपुर जिले के फलौदी की एक मुस्लिम लड़की ने तीन तलाक के विरोध में एक बड़ा कदम उठाया है। तस्लीमा नाम की इस लड़की ने कुछ ऐसा किया जिसे जानकर आप भी हैरत में पड़ जाएंगे। पहले तो लड़की ने हिंदू रीति-रिवाज से शादी की फिर इस शादी की वजह उसने सामाजिक सुरक्षा बताई।

यह भी पढ़ें : टूट गया मुसलमानों का सपना, राम मंदिर की नींव पर योगी ने जड़ा पहला पत्थर !

हिंदू रीति-रिवाज से शादी

यह शादी यहां एक हनुमान मंदिर मे हिंदू युवक के साथ रचाई। बाद में मीडिया से बातचीत में उसने बताया कि उसे बचपन से ही हिंदु धर्म पसन्द है। उसका मानना है कि हिंदु धर्म सुरक्षित और महिलाओं का सम्मान करने वाला है। यही नहीं, उसने यह भी कहा कि हिंदु धर्म जीवनभर अपनी पत्नी के अलावा दूसरी महिलाओं को बहन बेटी की नज़र से देखता है। उसका कहना है कि मुस्लिम समाज में लड़की की मर्जी पूछे बिना ही उसकी शादी कर दी जाती है।

यह भी पढ़ें : अयोध्या में राम मंदिर नहीं, बनेगा राम-रहीम अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालय !

उसने कहा कि 12-13 शादियां करने की इजाजत देने वाले समाज से बेहतर हिंदू समाज है जो महिलाओं को पूर्ण सुरक्षा प्रदान करता है। उधर, फलौदी में हुई इस शादी के बाद शहर में चर्चा का विषय भी गरम है। दोनों प्रेमी युगल के विवाह की खबर के बाद जोड़े को देखने लोगो की भीड़ उमड़ पड़ी।

(Note – इस खबर में कितनी सच्चाई है इसकी जिम्मेदारी www.puridunia.com नहीं लेता, ये खबर हमने liveindia.live वेबसाइट से ली है)

 

(liveindia.live से साभार)

loading...
शेयर करें