हॉकी लीग के बेहद रोमांचक होने की उम्‍मीद

0

नई दिल्ली| हॉकी इंडिया लीग (एचआईएल) 2016 में अपने चौथे संस्करण की शुरुआत के लिए तैयार है। देश में हॉकी को बढ़ावा देने के लिए शुरू की गई यह लीग हॉकी जगत के कई बड़े नामों से सजी होगी। विश्व के हॉकी धुरंधर लीग की चमक को न सिर्फ बढ़ाएंगे बल्कि उनके खेलने से भारत के युवा खिलाड़ियों को भी फायदा होगा। छह फ्रेंचाइजी लीग के खिताब के लिए आपस में लड़ेंगी जिनमें जेपी पंजाब वॉरियर्स, दिल्ली वेबराइडर्स, कलिंगा लांसर्स, उत्तर प्रदेश विजार्डस, दबंग मुंबई और लीग की मौजूदा चैम्पियन रांचीं रेज शामिल है।

हॉकीहॉकी लीग की शुरुआत 18 जनवरी से

लीग की शुरुआत 18 जनवरी से होगी और एक महीने तीन दिन बाद 21 फरवरी को इसका समापन होगा। दो बार की विजेता रह चुकी वॉरियर्स ने नीलामी में अपने कुछ खिलाड़ियों को बनाए रखा है। उनमें से एक हैं एस.वी. सुनील। सुनील ने 174 अंतर्राष्ट्रीय मैचों में 56 गोल किए हैं और उन्हें 50,000 डॉलर की कीमत पर वॉरियर्स ने टीम में बनाए रखा है। वेबराइडर्स से वॉरियर्स में आने वाले भारतीय टीम के कप्तान सरदार सिंह पर भी सभी की निगाहें होंगी। भारत की कई अहम जीतों का हिस्सा रह चुके सरदार सिंह ने भारत की तरफ से 236 मैच खेले हैं। हॉकी विश्व लीग (एचडब्ल्यूएल) में भारत को कांस्य पदक दिलाने में उन्होंने अहम भूमिका निभाई थी।

डिफेंडर वीआर रघुनाथ पर रहेगा फोकस

विजार्डस की टीम से खेलने वाले भारत के डिफेंडर वी.आर. रघुनाथ पर भी सभी का ध्यान होगा। कर्नाटक के इस खिलाड़ी ने भारत के लिए 203 मैचों में 127 गोल किए हैं। वह इस समय अच्छे फॉर्म में भी हैं। खिताब बचाने की मंशा से उतरने वाली रेज की टीम का दारोमदार डिफेंडर बिरेन्द्र लाकड़ा पर होगा। पिछले सत्र में शानदार खेल दिखाने वाली रांची रेज की कोशिश इस सत्र में भी ज्यादा से ज्यादा गोल कर खिताब बचाने की होगी। झारखण्ड के लाकड़ा ने भारत की तरफ से 123 मैच खेले हैं और वह टीम के सबसे शानदार खिलाड़ी माने जा रहे हैं। उन्हें आयरलैंड के फरगुस कावानाघ के साथ टीम में बनाए रखा गया है।

विश्व के शानदार गोलकीपरों में गिने जाने वाले भारतीय टीम के उप-कप्तान पी.आर. श्रीजेश विजार्डस की टीम के लिए मजबूत कड़ी साबित होंगे। रघुनाथ और श्रीजेश की जोड़ी विजार्ड्स के लिए काफी उपयोगी साबित हो सकती है।

loading...
शेयर करें