होम क्वॉरन्टीन मरीजों को उपलब्ध कराई जाएगी ‘पल्स ऑक्सीमीटर’: केजरीवाल

नई दिल्लीः दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सूबे में बढ़ते कोरोना के मरीजों को तुरंत इलाज मिले इसे लेकर सरकार पूरी तरह से जुटी हुई है. सीएम ने कहा कि मरीजों की मदद के लिए राज्य सरकार ने आसानी से मरीजों को ‘पल्स ऑक्सीमीटर’  उपलब्ध कराने का फैसला किया है. उन्होंने कहा कि फोन कॉल पर मरीजों को ‘पल्स ऑक्सीमीटर’ मुहैया कराई जाएगी.

 

इसके साथ ही उन्होंने एलान किया है कि रोजाना टेस्टिग की संख्या भी बढ़ा दी गई है. उन्होंने कहा कि अब 5000 के बजाए 18000 रोजाना टेस्ट कराए जा रहे हैं. सीएम ने बताया कि ये टेस्ट रैपिड टेस्टिंग के जरिए किए जा रहे हैं और इसके नतीजे 30 मिनट में मिल जाते हैं.

सीएम केजरीवाल ने ये एलान ऐसे वक्त में किए हैं जब दिल्ली में मरीजों की संख्या देश में दूसरे नंबर पर पहुंच गई है. अब तक दूसरे नंबर पर तमिलनाडु था, लेकिन अब दूसरे नंबर पर दिल्ली पहुंच गया है.

राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस की स्थिति पर आज मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और सीएम केजरीवाल ने कहा कि राज्य में कोरोना के 25 हजार एक्टिव केस हैं. फिलहाल लग रहा है कि अब हालात स्थिर हैं. हमने दिल्ली में टेस्टिंग की संख्या बढ़ाकर तीन गुना कर दी है.  उन्होंने कहा कि जितने लोग यहां ठीक हो रहे हैं, उतने ही लोग बीमार भी हो रहे हैं.

तेज़ी से टेस्टिंग करने को लेकर केजरीवाल ने कहा, दिल्ली में अब 18 हजार टेस्टिंग रोजाना हो रही हैं. अब किसी को कोरोना टेस्ट कराने में कोई दिक्कत नहीं होगी. हमने गड़बड़ करने वाली लैब्स के खिलाफ एक्शन लिया. केंद्र सरकार की मदद से रेपिड टेस्ट हो रहे हैं.

होम क्वरंटीन को लेकर मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि मरीज को पल्स ऑक्सीमीटर सरकार देगी. उन्होंने कहा, होम क्वरंटीन केस में पल्स ऑक्सीमीटर सरकार देगी. ठीक होने के बाद मरीज को पल्स ऑक्सीमीटर वापस देना होगा. जब ऑक्सीजन लेवल कम होगा, तब मरीज को अस्पताल ले जाया जाएगा. रोगी अपना लेवल नापे और दिक्कत होने पर हमें बताए.

 

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि कोरोना के नए मामलों में गंभीर मरीज़ बेहद कम हैं. दिल्ली में अभी 60 हजार बेड खाली हैं. इस समय 6,200 बेड इस्तेमाल हो रहे हैं.

केजरीवाल ने आगे कहा कि इस वक्त हम दो युद्ध लड़ रहे हैं. चीन की तरफ से भेजे गए वायरस से डॉक्टर लड़ रहे हैं. सीमा पर चीन से हमारे सैनिक लड़ रहे हैं.

Related Articles