खुशखबरी : 20 साल के होम लोन पर मिलेगा 2.4 लाख रुपए का फायदा

0

नई दिल्ली। सालाना 18 लाख रुपए की कमाई करने वाले अगर पहली बार घर खरीदने की सोच रहे हैं तो उन्हे 2.4 लाख रुपए का फायदा हो सकता है। इसके लिए सरकार आपके होम लोन के ब्याज पर सब्सिडी देगी। फिलहाल, सरकार यह सब्सिडी सिर्फ 6 लाख रुपए तक की सालाना इनकम वालों को ही दे रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सरकार ने रियल एस्टेट मार्केट में तेजी लाने के लिए और साल 2022 तक सभी को पक्का मकान देने के लक्ष्य को पूरा करने के लिए सब्सिडी के 2 स्लैब्स बनाए हैं। ये दोनों स्लैब्स मौजूदा 15 साल की जगह 20 साल के टाइम पीरियड तक के होम लोन पर लागू होंगे। 31 दिसंबर, 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री आवास योजना (पीएमएवाई) के तहत दो सब्सिडी स्कीम्स की घोषणा की थी, लेकिन उनपर विस्तार से जानकारी अब दी गई है।

होम लोन के ब्याज

होम लोन के ब्याज पर सरकार देगी सब्सिडी

नई योजना के तहत घर खरीदार को उनकी आय के आधार पर तय दर से सब्सिडी मिलेगी। अगर आपकी वार्षिक आय 6 लाख रुपये से कम है तो 6 लाख रुपये के तक के लोन के ब्याज पर 6.5% की दर से सब्सिडी दी जाएगी। ध्यान रहे कि आपके लोन की राशि कितनी भी हो, सब्सिडी 6 लाख रुपये तक के मूलधन पर ही मिलेगी, इससे ज्यादा की रकम पर नहीं। अगर आपने 9% की ब्याज दर पर 20 लाख रुपये होम लोन लिया है तो आपको 6 लाख रुपये पर सिर्फ 2.5% की दर से ब्याज देना होगा। बाकी 14 लाख रुपये पर 9% का ही ब्याज चुकाना होगा। इसी तरह 12 लाख रुपये तक की सालाना कमाई वालों को 9 लाख रुपये तक के होम लोन के ब्याज पर सरकार 4% की सब्सिडी देगी जबकि 18 लाख रुपये तक की सालाना कमाई वालों को 12 लाख रुपये तक के होम लोन के ब्याज पर 3% की छूट मिलेगी।

अगर 9% की ब्याज दर पर लोन लिया जाए, तो तीनों कैटिगरीज की सब्सिडी से 20 साल के लोन पर अमूमन 2 लाख 40 हजार रुपये का फायदा होगा और लोन रीपेमेंट की मासिक किस्त में 2,200 रुपया कम हो जाएगा। अच्छी बात यह है कि यह प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत होम लोन के ब्याज पर मिल रही यह सब्सिडी इनकम टैक्स में छूट के अलावा है। अगर आप सालाना 10 लाख रुपये से ज्यादा कमाते हैं तो होम लोन पर आपको कुल (ब्याज पर सब्सिडी और इनकम टैक्स में छूट को जोड़कर) 61,800 रुपये सालाना तक का फायदा हो सकता है। नेशनल हाउसिंग बैंक (एनएचबी) और हुडको पर सब्सिडी स्कीम्स को लागू करने की जिम्मेदारी है।

कम आय वर्ग वालों को सब्सिडी देने की योजना के तहत सरकार ने अब तक पहली बार घर खरीदने वाले 18,000 लोगों को कुल 310 करोड़ रुपये तक की सब्सिडी दे चुकी है। एनएचबी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सब्सिडी वितरण की गति में बहुत तेजी आने वाली है क्योंकि अब स्कीम के दायरे में मध्य आय वर्ग के लोग भी आ चुके हैं।

Edited by- Jitendra Nishad

loading...
शेयर करें