18 लाख का 1 टिकट, सोने की परत चढ़े बर्तनों में खाना! जानें इस ट्रेन की खासियत

महाराजा एक्सप्रेस की यात्रा को दुनिया की सबसे लग्जरी और महंगी ट्रेन यात्रा माना जाता है. इसकी भव्यता ऐसी है कि फाइव स्टार होटल की रौनक भी फीकी पड़ जाए. इस ट्रेन में यात्रियों को राजा-महाराजा की तरह सुविधाएं मिलती हैं. इस ट्रेन में यात्री एक शाही यात्रा का आनंद उठाते हैं. यह ट्रेन कई बार वर्ल्‍ड ट्रेवल अवॉर्ड जीत चुकी है. इस ट्रेन में सफर करने के लिए एक टिकट की कीमत 18 लाख रुपये तक है. हालांकि, टिकट के रेट में थोड़ा-बहुत उतार-चढ़ाव होता रहता है. तो आइए जानते हैं 18 लाख रुपये के टिकट वाली इस ट्रेन के बारें में और देखते हैं अंदर की तस्वीरें…

यात्रियों को लग्जरी अहसास के साथ भारत दर्शन के उद्देश्य से महाराजा एक्सप्रेस की शुरुआत 2010 में की गई थी. एक किलोमीटर लंबी इस ट्रेन में कुल 23 डिब्बे होते हैं और इन 23 डिब्बों में सिर्फ 88 यात्री सफर कर सकते हैं. यात्रियों की संख्या को इसलिए कम रखा गया ताकि जो भी यात्री सफर करें उन्हें राजशाही ठाठ के लिए पूरा स्पेस मिल सके.
महाराजा एक्सप्रेस का रूट- यह शाही ट्रेन यात्रियों को दिल्ली, आगरा, बीकानेर, फतेहपुर सीकरी, ओरछा, खजुराहो, जयपुर, जोधपुर, उदयपुर, रणथम्भोर, वारणसी और मुंबई का दर्शन करवाती है. सफर के दौरान यात्रियों के लिए मुंबई के ताज महल पैलेस होटल, राजस्थान के सिटी पैलेस, रामबाग पैलेस होटल समेत कई फाइव स्टार होटल में सुविधाएं दी जाती हैं.
वर्तमान में महाराजा एक्सप्रेस चार टूर पैकेज दे रहा है जिसमें 3 पैकेज 7 दिन और 6 रातों का है और एक पैकेज 4 दिन/3 रातों का है. सभी पैकेज के रेट अलग-अलग हैं.
> इंडियन स्प्लेंडर (7 दिन/6 रातें)- दिल्ली- आगरा- रणथम्भोर- जयपुर- बीकानेर- जोधपुर- उदयपुर-मुंबई
> हेरिटेज ऑफ इंडिया (7 दिन/6 रातें)- मुंबई- उदयपुर- जोधपुर- बीकानेर- जयपुर- रणथम्भोर-फतेहपुर सिकरी-आगरा- दिल्ली
> इंडियन पैनारोमा (7 दिन/6 रातें)- दिल्ली- जयपुर-  रणथम्भोर-फतेहपुर सिकरी-आगरा-ओरछा-खजुराहो-वाराणसी-दिल्ली
> ट्रेजर्स ऑफ़ इंडिया- 4 दिन/ 3 रातें- दिल्ली- आगरा- रणथम्भोर- जयपुर- दिल्ली
अंदर से यह ट्रेन पटरी पर दौड़ते किसी शाही होटल की तरह दिखती है. ट्रेन में ऑनबोर्ड रेस्‍त्रां, डीलक्‍स केबिन, जूनियर सूइट और लॉन्‍ज बार जैसी कई लग्‍जरी सुविधाएं मिलती हैं. महाराजा एक्सप्रेस में यात्रा के दौरान यात्रियों को भारत दर्शन करवाती है.
महाराजा एक्सप्रेस ट्रेन में 88 यात्रियों के लिए कुल 43 गेस्ट केबिन हैं, जिसमें 20 डीलक्‍स केबिन, 18 जूनियर सूइट, 4 सूइट और 1 ग्रांड प्रेसिडेंशियल सुइट है.  हर केबिन में दो लोगों के लिए यात्रा की सुविधाएं दी गई हैं. हालांकि, प्रेसिडेंशियल सुइट एक मात्र ऐसा केबिन हैं जिसमें 4 लोग यात्रा कर सकते हैं. यह केबिन सबसे महंगा है.
डीलक्स केबिन- महाराजा एक्सप्रेस में 20 डीलक्स केबिन हैं जिसमें यात्रियों को फाइव स्टार होटल की तरह सुविधाएं दी जाती हैं. इसमें एक बड़े एयर कंडीशंड डबलबेड रूम के साथ LCD टीवी , इंनरनेशनल कॉलिंग की सुविधा, इंटरनेट, इलेक्ट्रॉनिक लॉकर, अलमारी, ठंडे और गर्म के साथ प्राइवेट बाथरूम की सुविधा मिलती है. इसका अधिकतम किराया 4,83,240 रुपये है.
महाराजा एक्सप्रेस में 18 जूनियर सूइट हैं, जिसमें यात्रियों को बड़ी खिड़कियां मिलती हैं और डीलक्स केबिन के मुकाबले ज्यादा स्पेस मिलता है. इस केबिन से बाहर का सुंदर और भव्य नजारा देखा जा सकता है. जूनियर सूइट के केबिन में डबल बेड की सुविधा के साथ इंटरनेशनल कॉलिंग की सुविधा, LCD टीवी, ऐसी, ठंडे और गर्म के साथ प्राइवेट बाथरूम और अलमारी की सुविधाएं मिलती हैं. इसका अधिकतम किराया 7,53,820 रुपये है.
महाराजा एक्सप्रेस में 4 सूइट हैं. इस केबिन में अन्य सभी सुविधाओं के साथ-साथ मिनी बार, बाथटब, स्मोक अलार्म और डॉक्टर की सुविधा भी है. सुइट का अधिकतम किराया 10,51,840 रुपये है.
महाराजा एक्सप्रेस में सिर्फ एक प्रेसिडेंशियल सूइट है. इस सूइट को नवरत्न के नाम से भी जाना जाता है. यह सूइट किसी शाही महल से कम नहीं है. अंदर से इसकी भव्यता देखते ही बनती है. इसमें 2 बेडरूम और सेपरेट बाथरूम की सुविधा मिलती है. इसमें बटलर, बार समेत कई ऐसी सुविधाएं दी जाती हैं जो यात्रियों को राजा महाराजा वाला एहसास कराता है.

Related Articles