10 दिन बाद खुला प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्ग व रेल लाइन, IPFT ने की थी नाकाबंदी

0

अगरतला| त्रिपुरा की इंडिजीनस पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) ने 10 जुलाई से राज्य के प्रमुख राष्ट्रीय राजमार्ग और एक मात्र रेल लाइन की नाकेबंदी की थी. पार्टी ने ऐसा इसलिए किया था क्योंकि पार्टी काफी समय से एक अलग राज्य की मांग कर रही है. पार्टी ने 10 दिन की नाकेबंदी के बाद गुरुवार को नाकाबंदी खत्म कर दी. नाकेबंदी के चलते राज्य में खाद्य अनाज सहित जरूरी सामानों की गंभीर कमी हो गई है।

IPFT

पश्चिमी जिला पुलिस प्रमुख अभिजीत सप्तर्षि ने नाकेबंदी स्थल खमतिनगबारी में आईएएनएस से कहा, “नाकाबंदी बिना किसी बड़ी दिक्कत के आज सुबह हटा ली गई। हालांकि, हम पूरी तरह से आईपीएफटी के लोगों को हटाने के लिए तैयार थे, हमने उन पर बल प्रयोग नहीं किया, क्योंकि उन्होंने नाकाबंदी खुद वापस ले ली।”

सप्तर्षि ने कहा कि वे महिलाओं सहित आईपीएफटी के सदस्यों को विभिन्न जिलों में उनके गांवों में पहुचांने के लिए कुछ बसों का इंतजाम कर रहे हैं। आईपीएफटी अध्यक्ष नरेंद्र चंद्रा देबबर्मा ने नाकेबंदी वापस लेने की घोषणा करते हुए कहा कि केंद्र सरकार के अगले सप्ताह उनकी मांगों को लेकर पार्टी नेताओं के साथ एक बैठक करने की उम्मीद है।

देबबर्मा ने कहा, “राज्यपाल तथागत राय ने केंद्र सरकार से हमारी मांग को बताया। हम जनजातीय लोगों के लिए अलग राज्य हासिल करने के प्रयास में एक कदम आगे बढ़े हैं। हमें अपना लक्ष्य हासिल करने के लिए अभी लंबी दूरी तय करनी है।”

loading...
शेयर करें