ऑस्ट्रेलियन ओपन में 10 प्रतिशत दर्शकों का आना भी बड़ी बात होगी: जोकोविच

नोवाक जोकोविच ने कहा है कि अगर वर्ष के पहले ग्रैंड स्लेम ऑस्ट्रेलियन ओपन में 10 प्रतिशत दर्शक भी मैदान में खेल देखने पहुंचते हैं तो यह बड़ी बात हो

लंदन : सत्र के आखिरी टेनिस टूर्नामेंट एटीपी वर्ल्ड टूर फाइनल्स के सेमीफाइनल में नौंवीं बार पहुंच चुके दुनिया के नंबर एक टेनिस खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविच ने कहा है कि अगर वर्ष के पहले ग्रैंड स्लैम ऑस्ट्रेलियन ओपन में 10 प्रतिशत दर्शक भी मैदान में खेल देखने पहुंचते हैं तो यह बड़ी बात होगी।

कोरोना महामारी के मद्देनजर लगे लॉकडाउन के दौरान ज्यादातर बड़े टूर्नामेंट का आयोजन लगभग खाली मैदान में हुआ है। जोकोविच ने कहा, ‘‘मैंने सुना है कि ऑस्ट्रेलिया ओपन टूर्नामेंट के आयोजक 50 फ़ीसदी लोगों को स्टेडियम में प्रवेश देने की बात कर रहे हैं। ऑस्ट्रेलियन ओपन में अगर 10 फीसदी लोग भी स्टेडियम पहुंचते हैं तो यह बड़ी बात होगी।”

खिलाड़ियों के लिए चीयर करने से बेहतर कुछ भी नहीं : जोकोविच

उन्होंने कहा, ‘‘दर्शकों के मैदान में होने से और हर शॉट के बाद हौसलाअफजाई से खिलाड़ियों का मनोबल काफी बढ़ता है। दर्शकों का अपने खिलाड़ियों के लिए चीयर करने से बेहतर कुछ भी नहीं। हम इस वक्त उन्हें काफी मिस कर रहे हैं।” ऑस्ट्रेलियन ओपन के लिए रोड लेवर एरेना कोर्ट सबसे बड़ा है। इसमें 15,000 लोगों के बैठने की क्षमता है जबकि मेलबोर्न एरेना में 9646 और मार्ग्रेट कोर्ट एरेना में 7500 लोगों के बैठने की क्षमता है।

यह भी पढ़ें :

सबसे अधिक आठ बार ऑस्ट्रेलियन ओपन जीतने वाले जोकोविच ने कहा, ‘‘कोरोना महामारी की शुरुआत में हमें छह महीने का समय मिला। कोरोनाकाल में हमने टेनिस टूर्नामेंट में हिस्सा लिया। इस दौरान बिना दर्शकों के हमने काफी टूर्नामेंट खेले। दो ग्रैंड स्लेम हमने इस दौरान खेले वहीं इसके अलावा एटीपी फाइनल्स, सिनसिनाटी ओपन और रोम ओपन भी इस दौरान खेला गया।”
गौरतलब है कि ऑस्ट्रेलियन ओपन को जनवरी के मध्य में आयोजित कराने के लिए ऑस्ट्रेलियाई प्रशासन पूरा जोर लगाए है।

Related Articles

Back to top button