10वीं कक्षा की लड़की ने लगाया 11 छात्रों पर गैंगरेप का आरोप, मुख्य आरोपी गिरफ्तार

पटना: बिहार की नीतीश सरकार एक ओर राज्य में कानून व्यवस्था और महिलाओं की सुरक्षा के पुख्ता होने के दावे कर रही हो, वहीं दूसरी ओर आये दिन रेप के मामले सामने आ रहे हैं। ताजा मामला बगहा जिले से सामने आया है। यहां एक स्कूली छात्रा का आरोप है कि उसके साथ 11 छात्रों ने गैंगरेप किया है।

ये है पूरा मामला

बिहार के बगहा जिले के एक सरकारी स्कूल में दसवीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा का आरोप है कि 10 जुलाई की दोपहर को स्कूल की छुट्टी होने के बाद वह अपने घर जा रही थी। इसी दौरान रास्ते में मनकेश पटवारी नाम के एक छात्र और अपने दस साथियों के साथ उसे बंधक बना लिया और जबरन उसे उठाकर एक सुनसान इलाके ले गये। यहां सभी ने बारी-बारी से उसके साथ दुष्कर्म किया।

बेहोशी की हालत में छोड़कर भागे आरोपी

पीड़ित छात्रा ने बताया कि आरोपियों ने गैंगरेप करने के बाद उसे मुंह ना खोलने की धमकी दी और कहा कि अगर किसी को बताया तो पूरे परिवार को इसका अंजाम भुगतना पड़ेगा। इसके बाद सभी आरोपी पीड़िता को बेहोशी की हालत में छोड़कदर भाग गये। घटना के बाद डरी-सहमी पीड़िता ने एक हफ्ते तक इसका जिक्र किसी से नहीं किया, मगर मंगलवार को उसने अपने परिवार वालों को  आपबीती सुनाई।

पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार किया

पीड़िता के परिजन इस घटना को जानने के तुरंत बाद पीड़ता के साथ बगहा के महिला थाना पहुंचे और आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई। पुलिस ने केस दर्ज कर छापेमारी की और बुधवार की सुबह मुख्य आरोपी मनकेश पटवारी को गिरफ्तार कर लिया। बुधवार को ही आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया जिसके बाद उसे जेल भेज दिया गया।

अन्य 10 आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस

पीड़िता के मुताबिक, वह मुख्य आरोपी मनकेश पटवारी को पहले से जानती थी। हालांकि, पीड़िता ने 11 छात्रों पर गैंगरेप का आरोप लगाया है। इस पर बगहा एसपी ने कहा कि इस मामले में कितने लोग शामिल थे इसकी जांच की जा रही है। बुधवार को पीड़िता का सदर अस्पताल में मेडिकल जांच भी कराया गया जिसकी रिपोर्ट अभी आनी बाकी है। रिपोर्ट सामने आने के बाद तफ्तीश आगे बढ़ सकेगी।

आरोपी के पीड़िता पर लगाया ये इल्जाम

एसपी के मुताबिक, मुख्य आरोपी मंगेश पटवारी ने पूछताछ में इस बात का खुलासा किया है कि उसका और पीड़िता का प्रेम प्रसंग था और पीड़िता उस पर शादी करने का दबाव बना रही थी।

Related Articles

Back to top button