11 साल बाद रिहा हुए शहाबुद्दीन, 1300 गाड़ियों के साथ पहुचेंगे सिवान

0

पटना। बिहार के बाहुबली आरजेडी नेता मोहम्मद शहाबुद्दीन को शनिवार सुबह जेल से रिहा कर दिया गया। जिसके बाद वह फिर अपने पुराने तेवर में दिखे। जेल से रिहा होने के बाद शहाबुद्दीन 1300 गाड़ियों के काफिले के साथ सीवान जाएंगे।

शहाबुद्दीन

11 साल बाद रिहा हुए शहाबुद्दीन

सीवान के चर्चित तेजाब कांड में हाई कोर्ट से जमानत मिलने के बाद शनिवार सुबह वह जेल से रिहा हुए। शहाबुद्दीन को कुछ दिनों पहले पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या के आरोपों में घिरने के बाद सीवान से भागलपुर जेल शिफ्ट किया गया था। बताया जा रहा है कि जेल से रिहा होने के बाद उन्हें 1300 गाड़ियों के काफिले के साथ सीवान जाएंगे।

सिवान प्रशासन हुआ सतर्क

बाहुबली के जेल से बाहर आने की खबर मिलते ही सिवान प्रशासन ने चौकसी बढ़ा दी है। जगह-जगह सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है। राज्य में पहले ही कानून-व्यवस्था बदहाल है और वहां गुंडाराज फैला है। अब उनके रिहा होने से राज्य में अपराध बढ़ेंगे। उनकी रिहाई को लेकर बीजेपी ने आपत्ति जताई है। बीजेपी का कहना है कि जंगल राज के प्रतीक रहे उनके बाहर आने की खबर से लोग सहमे हुए हैं।

लालू की छत्रछाया में रहूंगा

जेल से बाहर आने के बाद शहाबुद्दीन ने लालू प्रसाद यादव को अपना नेता बताया। उन्होंने कहा, ‘लालू यादव ही हमारे नेता हैं। मुझे उनके ही छत्रछाया में रहना है। मैं अपनी छवि क्यों बदलूं? मैं जैसा हूं, 26 साल तक लोगों ने मुझे इसी रूप में स्वीकार किया है। सब जानते हैं कि मुझे फंसाया गया था। कोर्ट ने मुझे जेल भेजा और अब कोर्ट ने ही मुझे आजाद किया है।

 

loading...
शेयर करें