बी. साईं प्रणीत ने कनाडा ओपन खिताब किया अपने नाम

0

कनाडा।भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी बी. साईं प्रणीत ने कनाडा ओपन खिताब अपने नाम कर लिया है। इसके अलावा मनु अत्री और बी. सुमीत रेड्डी की भारतीय जोड़ी भी टूर्नामेंट के पुरुष युगल वर्ग खिताब अपने नाम करने में सफल रही। 37वीं विश्व वरीयता प्राप्त प्रणीत ने पुरुष एकल वर्ग के फाइनल मुकाबले में दक्षिण कोरिया के ली ह्यून को 21-12, 21-10 से हराकर खिताब पर कब्जा जमाया।

बी. साईं प्रणीत

बी. साईं प्रणीत के साथ मनु अत्री और बी. सुमीत रेड्डी ने भी जीतें खिताब

तीसरे वरीय ली और चौथे वरीय प्रणीत के बीच करियर का यह दूसरी भिड़ंत थी। इससे पहले मलेशिया मास्टर्स में प्रणीत को दक्षिण कोरियाई खिलाड़ी से हार का सामना करना पड़ा था, जिसका बदला प्रणीत ने इस मुकाबले में जीत हासिल कर ले लिया।

बी. साईं प्रणीत ने मैच में शुरू से अपने दक्षिण कोरियाई प्रतिद्वंद्वी पर दबदबा बना लिया और लगातार आठ अंक हासिल करते हुए 12-2 की बड़ी बढ़त ले ली। प्रणीत को पहला गेम अपने नाम करने में खास मशक्कत नहीं करनी पड़ी।

पहला गेम जीतने के बाद ऊर्जा से लबरेज बी. साईं प्रणीत ने दूसरे गेम की एकतरफा शुरुआत की और 8-0 से निश्चित जीत की ओर कदम बढ़ा दिए। इस गेम में भी ली ह्यून भारतीय शटलर के आगे बेबस नजर आए। प्रणीत को खिताब अपने नाम करने में सिर्फ 28 मिनट लगे।

टूर्नामेंट के पुरुष युगल वर्ग में शीर्ष वरीय अत्री और रेड्डी की भारतीय जोड़ी ने भी अपनी वरीयता के अनुरूप प्रदर्शन करते हुए आद्रियान लियू और टोबी एनजी की स्थानीय जोड़ी को 21-8 21-14 से हराया।

भारतीय जोड़ी ने पहले गेम में अपना दबदबा बनाते हुए 3-3 के स्कोर के बाद लगातार तीन अंक हासिल कर 6-3 की बढ़त ले ली। एक बार बढ़त हासिल करने के बाद भारतीय जोड़ी पहले गेम में फिर नहीं पिछड़ी। 14-8 के स्कोर के बाद अत्री-रेड्डी ने कनाडाई जोड़ी को लगभग रौंदते हुए लगातार सात अंक लिए और जीत हासिल की।

कनाडाई जोड़ी ने दूसरे गेम में जरूर थोड़ा संघर्ष का माद्दा दिखाया, हालांकि इस गेम में भी 3-3 के बाद भारतीय जोड़ी कभी नहीं पिछड़ी।

loading...
शेयर करें