बिहार बोर्ड की 12वीं की परीक्षा शुरू, नक़ल रोकने के कड़े इंतजाम

0

पटना| यूपी बोर्ड के साथ-साथ बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से आयोजित इंटरमीडिएट (12वीं) की परीक्षा आज शुरू हो गयी। इस परीक्षा के लिए बिहार सरकार ने कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की है। इस परीक्षा के लिए राज्यभर में कुल 1,384 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

इस परीक्षा में राज्यभर से 12,07,986 छात्र-छात्राएं शामिल हो रहे हैं, जिसमें छात्रों की कुल संख्या 7,19,848 है। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के अध्यक्ष आनंद किशोर ने मंगलवार को बताया कि 12 वीं की परीक्षा को लेकर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। सभी परीक्षा केंद्रों के बाहर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। परीक्षा हल के अंदर की वीडियोग्राफी कराई जा रही है।

सभी केंद्रों पर तीन स्तरों पर दंडाधिकरियों की तैनाती की गई है। परीक्षार्थियों की सघन तलाशी के बाद ही परीक्षा केंद्रों में प्रवेश दिया गया। 25 परीक्षार्थियों पर एक वीक्षक तैनात करने के निर्देश सभी केंद्राधीक्षकों को दिया गया है।

अध्यक्ष ने बताया कि इस बार की परीक्षा नए पैटर्न से ली जा रही है। प्रश्न पत्र और उत्तरपुस्तिका के पैटर्न में काफी बदलाव किया गया है। इस बार 50 फीसदी प्रश्न बहुविकल्पीय वस्तुनिष्ठ पूछे जा रहे हैं, जिसका जवाब ओएमआर शीट पर देना होगा। इसके अतिरिक्त 30 फीसदी प्रश्न दो-दो अंक के लघु उत्तरीय होंगे। 20 फीसदी अंक के दीर्घउत्तरीय प्रश्न होंगे। उत्तरपुस्तिका में भी बदलाव किया गया है।

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने किसी भी तरह की समस्या को सूचित करने के लिए एक नियंत्रण कक्ष बनाया है। अभिभावक, छात्र या शिक्षा विभाग का कोई पदाधिकारी नियंत्रण कक्ष से कोई भी जानकारी प्राप्त कर सकता है।

एक अधिकारी के मुताबिक, 16 फरवरी तक चलने वाली इस परीक्षा में छात्र व वीक्षक के मोबाइल या किसी इलेक्ट्रॉनिक सामान को केंद्र में ले जाने पर रोक लगाई गई है।

उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ वषरे से मैट्रिक और इंटर की परीक्षा के दौरान परीक्षा के दौरान नकल और उत्तर पुस्तिका जांच के बाद टॉपर बनने को लेकर पूरे बिहार की बदनामी हुई है।

loading...
शेयर करें