अंतर्राष्ट्रीय गिरोह अमेरिका में किशोरियों की बेदर्दी से ले रहे जान

0

न्यूयॉर्क। लॉस एंजेलिस स्थित एक अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक गिरोह के दर्जनभर से ज्यादा सदस्यों पर सात से ज्यादा हत्याओं का आरोप लगा है। पिछले साल की इस घटना में मारे गए लोगों में तीन न्यूयॉर्क की दो छात्राएं और एक छात्र भी शामिल हैं।

हत्या

ला मारा सल्वाट्रूचा के 13 सदस्यों पर हत्या सहित कई आरोप

सीएनएन की रिपोर्ट के मुताबिक, न्यूयॉर्क के पूर्वी जिले के अमेरिकी अटार्नी के कार्यालय ने गुरुवार को कहा कि ला मारा सल्वाट्रूचा के 13 सदस्यों पर सात हत्याएं, धोखाधड़ी, हत्या का प्रयास, हमला करने, न्याय में बाधा डालना और आगजनी का आरोप है।

अमेरिका के अटॉर्नी रॉबर्ट एल केपर्स ने मीडिया से कहा, “कानून प्रवर्तन ने तय किया है कि हत्या के इन क्रूर मामलों को ठंडे बस्ते में नहीं डाला जाएगा।” केपर्स ने कहा कि छात्राओं में से दो- निसा मिकेंस (17) और कायला क्यूवास (16) को बेसबॉल बल्ले से पीटा गया और धारदार हथियार से हत्या कर दी गई थी।

ये लड़कियां ब्रेंटवुड हाईस्कूल गई थीं। यह हाईस्कूल न्यूयॉर्क शहर से 45 मील पूर्व में है। पुलिस ने कहा कि लड़कियों की मौत और दो अन्य की मौत में इसी गिरोह का हाथ होने का अंदेशा है। मारी गईं लड़कियों के कंकाल महीनों बाद पाए गए।

सीएनएन के मुताबिक, ब्रेंटवुड हाईस्कूल के तीसरे छात्र जोसे पेना (18) की हत्या 3 जून, 2016 को की गई थी। केपर्स ने कहा पेना का कंकाल 17 अक्टूबर 2016 को जंगली इलाके से बरामद किया गया था। संघीय अधिकारियों ने कहा कि पेना की हत्या उसके गिरोह के नियमों के उल्लंघन के संदेह में हुई।

loading...
शेयर करें