तेलंगाना के मुस्तफानगर में 13 साल की मासूम के साथ हैवानियत, जिन्दा जलाया

प्रतीकात्मक
प्रतीकात्मक

तेलंगाना: देश न जाने किस तरफ्र जा रहा है, जिस देश में बेटी बचाओं और बेटी पढ़ाओं का संकल्प लिया जाता है वहां हर वक़्त बेटियों के साथ दरिंदगी का एक नया मामला सामने आता है. लगातार बेटियों पर हो रहे जुल्म की संख्या बढ़ती जा रही है. कम्मम के मुस्तफानगर में एक मासूम बेटी को एक दरिन्दे ने सिर्फ इसलिए जिंदा जला दिया की उसने खुद पर हो रहे जुल्म का विरोध किया.

क्या है पूरा मामला

दरअसल तेलंगाना के मुस्तफानगर में एक 13 साल की मासूम लड़की एक युवक के घर में काम करती थी. बीते 18 सितम्बर को 28 साल के शादीशुदा युवक ने घर में अकेला पाकर मासूम के साथ दरिंदगी का प्रयास किया, लेकिन बहादुर बच्ची ने लड़ते-झगड़ते किसी तरह अपने आप को बचा लिया. इससे दरिन्दे युवक को इतना गुस्सा आया की उसने लड़की को आग के हवाले कर दिया. मासूम लड़की का शरीर 70 प्रतिशत जल चुका है. फिलहाल लड़की का इलाज एक निजी  अस्पताल में जारी है.

सूत्रों ने बताया कि आरोपियों द्वारा कथित तौर पर नाकाम रहने के बाद लड़की के माता-पिता को डरा-धमकाकर इस मामले को सुलझाने की कोशिश की गई उसके बाद जाकर ये पूरा मामला सामे आया.

महिला संगठनों का विरोध प्रदर्शन

इस पूरे प्रकरण का विरोध करते हुए सोमवार को कई महिला संगठनों के कार्यकर्ताओं ने लड़कियों के साथ “हिंसा के बढ़ते ज्वार” के खिलाफ धरना प्रदर्शन किया.

 

ये भी पढ़ें- बिहार चुनाव: ‘हम’ पार्टी ने जारी की 7 प्रत्याशियों की लिस्ट, इन सीटों से लड़ेंगे चुनाव जीतन राम मांझी

Related Articles