पहले दिन इलाहाबाद और दूसरे दिन गाजियाबाद में 15 बूचड़खाने बंद

0

नई दिल्‍लीउत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री पद का कार्यभार संभालने के बाद बूचड़खाने पर कार्रवाई तेज हो गई है। मंगलवार को गाजियाबाद में अवैध रूप से चल रहे 15 बूचड़खानें बंद कराए गए हैं। यह बूचड़खाने गाजियाबाद के केला भट्टा इलाके में चल रहे थे।

15 बूचड़खानें बंद

15 बूचड़खानें बंद करने में पुलिस के छूटे पसीने

खबर मिली है कि अभी भी मौके पर भारी पुलिस बल तैनात है। इसके साथ ही लखीमपुर खीरी में एक बूचड़खाने को सील कर दिया गया। बताया जा रहा है कि ये बूचड़खाना बिना लाइसेंस के चल रहा था। इससे पहले सोमवार को इलाहाबाद में भी दो बूचड़खाने बंद करवाये गये थे।

योगी ने किया था वादा

यूपी विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान ही योगी आदित्यनाथ ने बूचड़खानों का मुद्दा उठाया था। योगी ने कहा था यूपी में बीजेपी की सरकार आने के बाद अवैध बूचड़खानों को बंद किया जाएगा। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी बूचड़खाने बंद करने की बात अक्सर कहते रहे हैं।

बीजेपी के संकल्‍प पत्र में कही गई थी बात

ऐसे में रविवार को सीएम पद की शपथ लेने के बाद बूचड़खानों को बंद करने की कार्रवाई योगी के एक्शन का हिस्सा माना जा रही है। 11 मार्च को चुनाव नतीजे आने के बाद ही योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि अवैध बूचड़खानों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

loading...
शेयर करें