हमले के बाद अमरनाथ के लिए 16वां जत्‍था हुआ रवाना, बढ़ रही तीर्थयात्रियों की संख्‍या

0

जम्मू। अमरनाथ यात्रियों पर हमले के बाद सुरक्षा के इंतजाम कड़े कर दिए गए हैं। उसके बाद से सभी यात्रियों को धीरे-धीरे करके रवाना किया जा रहा है। सुरक्षा एजेंसियां काफी सतर्क हैं। खबर मिली है कि शनिवार को कड़ी सुरक्षा व्‍यवस्‍था के बीच अमरनाथ के लिए 16वां जत्‍था भेजा गया है। इस जत्‍थे में करीब 4000 यात्री शामिल हैं।

अमरनाथ के लिए 16वां जत्‍था

सीआरपीएफ संग रवाना हुआ अमरनाथ के लिए 16वां जत्‍था

अधिकारियों ने बताया कि 3,398 श्रद्धालुओं का 16वां जत्था सीआरपीएफ और पुलिस की सुरक्षा के बीच रवाना हुआ है। इसमें 2,535 पुरूष और 758 महिलाएं, 100 साधु-साध्वियां और पांच ट्रासजेंडर शामिल हैं। श्रद्धालु शनिवार सुबह 191 वाहनों में सवार होकर बालटाल और पहलगाम आधार शिविर के लिए निकले।

यह भी पढ़ें:  अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमले के बाद कश्मीर में अब स्थिति नियंत्रण में

28 जून से शुरू हुई थी यात्रा

अमरनाथ यात्रा जम्मू से 28 जून को शुरू हुई थी। यात्रा का समापन श्रावण पूर्णिमा के दिन यानी रक्षा बंधन के अवसर पर सात अगस्त को होगाद्य ताजा जानकारी के मुताबिक शुक्रवार शाम तक 1,86,853 श्रद्धालु पवित्र गुफा के दर्शन कर चुके हैं।

हमले के बावजूद अमरनाथ यात्रा पूरे उत्साह के साथ जारी

अमरनाथ यात्रियों पर कश्मीर के अनंतनाग जिले में 10 जुलाई को हुए आतंकवादी हमले के बावजूद श्रद्धालुओं का उत्साह ठंडा नहीं पड़ा है। वे पूरे जोश के साथ यात्रा जारी रखे हुए हैं। शुक्रवार को भी 4,000 से अधिक श्रद्धालुओं का एक जत्था पवित्र गुफा में बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए घाटी की ओर रवाना हुआ। एक अधिकारी ने बताया, “4,105 श्रद्धालुओं का जत्था तड़के 3.40 बजे कड़ी सुरक्षा में 191 वाहनों के साथ भगवती नगर यात्री निवास से रवाना हुआ।

धीरे-धीरे बढ़ रही है तीर्थयात्रियों की संख्या

सोमवार रात हुए आतंकवादी हमले के बाद तीर्थयात्रियों की संख्या धीरे-धीरे बढ़ रही है। अधिकारियों ने सुरक्षा कड़ी करते हुए सुनिश्चित किया है कि किसी भी तीर्थयात्री वाहन को बिना सुरक्षा के राजमार्ग से न गुजरने दिया जाए।

loading...
शेयर करें