अमृत से कम नहीं तुलसी की पत्तियां पर ऐसे करें इस्तेमाल

0

तुलसी हर हिंदू के घर में पाई जाती है। पुराणों में इसकी पूजा का उल्लेख है लेकिन इसके औषधीय गुणों की वजह से इसका और महत्व बढ़ जाता है। लोग तमाम बीमारियों में तुलसी के पत्तों का उपयोग करते हैं लेकिन शायद कम लोगों को ही पता होगा कि अगर इसके तीन चार पत्ते दूध में मिलाकर पिए जाएं तो किसी अमृत से कम नहीं। तो आइये जानते हैं की दूध और तुलसी के पत्ते साथ पीने से क्या क्या फायदे होते हैं और किन -किन बीमारियों से बच सकते हैं।

दूध और तुलसी

दूध और तुलसी के पत्ते साथ मिलाकर पीने से होते हैं तमाम फायदे

सिरदर्द से आराम- दूध और तुलसी के पत्ते अगर उबाल के पिएं तो भयानक से भयानाक सिर दर्द से मुक्ति मिल सकती हैरोजाना आप इस मिश्रण को पीएंगे तो धीरे-धीरे सिरदर्द जाता रहेगा।

फ्लू से बचाएगा-  फ्लू से छुटकारा पाया जा सकता है। तुलसी में मौजूद एंटी-इन्फ्लेमेट्री तत्वों से फ्लू के लक्षणों को नष्ट करने में मदद मिलती है।

तनाव करता है कम- गर्म दूध में तुलसी मिलाकर पीने से नर्वस सिस्टम को आराम मिलता है और ये स्ट्रेस हार्मोन को नियंत्रि‍त करता है।  ये एंजाइटी और डिप्रेशन से भी बचाता है।

किडनी स्टोन से छुटकारा- इससे यूरिक एसिड कम होता है और किडनी स्टोन धीरे-धीरे खत्म होने लगता है। पत्तों को पानी में खूब उबाल लें और इसे ठंढा कर दिन में तीन बार पिएं।

कैंसर से बचाव- तुलसी और दूध दोनों ही एंटीऑक्सीडेंट्स और पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं जो कि इम्यून सिस्टम मजबूत करते हैं। साथ ही कई तरह के कैंसर के सेल्स को पनपने से रोकते हैं।

कोल्ड की समस्या होगी दूर- तुलसी और दूध में एंटीबैक्टीरियल प्रोपर्टी होती हैं जो कि सूजे हुए गले, कोल्‍ड और ड्राई कफ को ठीक होता है।

loading...
शेयर करें